No icon

बुखार से 24 घंटे में 4 की मौत, हंगामा

बुखार से पीड़ित दर्जनों को हॉस्पिटल में कराया गया है भर्ती चल रहा है इलाज

प्रखर उन्नाव। जिला चिकित्सालय में शनिवार को बुखार से पीड़ित दो मासूम बच्चों की मौत हो गयी। बताया जा रहा है कि अब तक 24 घंटे के भीतर दो बच्चों समेत चार लोगों की मौत हो चुकी है। दूसरी तरफ 12 से अधिक बच्चे अस्पताल में भर्ती कराये गए हैं। जानकारी के अनुसार सफीपुर कोतवाली क्षेत्र के बहोद्दीपुर गांव में रहने वाले सफीद्दीन का 6 वर्षीय बेटा आरिफ की शनिवार की सुबह बुखार से हालत बिगड़ने पर परिजन उसे जिला अस्पताल लेकर गये। डॉक्टरों ने इलाज के दौरान आरिफ को मृत घोषित कर दिया। बताया जा रहा है कि दूसरी तरफ अचलगंज के बंथर गांव में रहने वाली महिला सीमा गौतम भी शनिवार सुबह दो वर्षीय बेटे अंश को लेकर जिला अस्पताल आई थी। अंश को तेज बुखार के अलावा उल्टी व दस्त की शिकायत होने पर डॉक्टरों ने उसे वार्ड में भर्ती कर इलाज शुरु कर दिया। लेकिन थोड़ी देर में उसकी भी मौत हो गयी। इसके अलावा शहर कोतवाली क्षेत्र के गलगलहा गांव में रहने वाले अधेड़ रामबली 55 वर्ष को पिछले कई दिनां से बुखार आ रहा था। शनिवार भोर पहर हालत बिगड़ने पर परिजनों ने जिला अस्पताल में भर्ती कराया, जहां इलाज के दौरान रामबली की भी मौत हो गई। इसी  क्रम में असीवन थाना क्षेत्र के नई बस्ती गांव में रहने वाले वृद्व कंन्हई 60 वर्ष की शुक्रवार की देर रात हालत बिगड़ गई। परिजन आनन फानन के उसे सीएचसी मियागंज लेकर पहुंचे। जहां इलाज के दौरान मौत हो गई। वहीं, शहर कोतवाली के इंद्रा नगर निवासी शिवानी (14) पुत्री बहादुर, बीघापुर के सातन निवासी गीता (35) पत्नी रामचंद्र, अचलगंज के बाबू खेडा निवासी आरती (08) पुत्री रामचंद्र, हिंदपाल खेडा निवासी बीना (28) पुत्री रवीन्द्र आदि को बुखार के साथ उल्टी दस्त आने पर परिजनो ने जिला अस्पताल में भर्ती कराया। जहां सभी का उपचार चल रहा है। बतादे कि 24 घंटे के भीतर चार लोगों की मौत की खबर सुनकर स्वास्थ्य विभाग में हड़कम्प मच गया है। मुख्यचिकित्साधिकारी के आदेश पर स्वास्थ्य विभाग की टीमें गांव में जाकर जाकर चकेअप के साथ दवाओं का वितरण शुरु कर दी है।

Comment