No icon

ग़ाज़ीपुर- केंद्र शुरू होने के बाद भी मात्र पांच सौ कुंटल धान की खरीदारी से किसानों में असन्तोष और रोष व्याप्त

प्रखर ब्यूरो सेवराई/ग़ाज़ीपुर। साधन सहकारी समिति गोड़सरा के सेवराई धान क्रयकेंद्र पर एक ही तराजू से तौल होने से किसानों में रोष व्याप्त है। किसान नेता भानू प्रताप सिंह ने उच्चाधिकारियों को किसानों की समस्या से अवगत कराते हुए केंद्र पर एक से अधिक तराजू से तौल कराने की मांग की है।
   बताते चले कि किसानों द्वारा महीनों धरना प्रदर्शन के बाद जिलाधकारी के निर्देश पर सेवराई को क्रयकेंद्र बनाते हुए बिगत एक सप्ताह पूर्व खरीदारी शुरू की गयी थी। लेकिन विभाग द्वारा केंद्र पर किसानों के धान क्रय के लिए केवल ही तराजू होने के चलते समुचित मात्रा में किसानों का धान पूरी क्षमता के साथ नही खरीदा जा पा रहा है। जिससे किसानों को अपने धान बेचने हेतु बार बार क्रय केंद्र का चक्कर लगाना पड़ रहा है। सेवराई गांव निवासी कृष्णदेव सिंह, डॉ. वशिष्ठ नारायण सिंह, अरबिंद सिंह, नन्हे सिंह, आशु, मुन्ना सिंह आदि किसानों ने आरोप लगाते हुए कहाकि केंद्र संचालन कर्ता कम्पनी द्वारा केवल एक तराजू से तौल कराया जा रहा है और किसानों द्वारा दिये गए धान का कोई रशिद भी नही दिया जा रहा है। जिससे किसान आसंकित है। एक ही तराजू के चलते केंद्र शुरू होने के एक सप्ताह बाद भी मात्र करीब पांच सौ कुंटल धान की ही खरीदारी हो सकी हैं। जबकि सैकड़ो किसानों की तकरीबन दस हजार कुंटल से अधिक धान की खरीदारी शेष है। तौल के इंतजार में दर्जनों किसान रोजाना मायूस होकर वापस हो रहे हैं। किसान नेता भानू प्रताप सिंह ने उच्च अधिकारियों का ध्यान आकृष्ट कराते हुए जल्द से जल्द केंद्र पर कम से कम दो तराजू लगाते हुए तेजी से धान क्रय कराने की मांग की है।
        इस बाबत यूपी स्टेट एग्रो के क्षेत्रीय प्रबंधक विनय कुमार सिंह ने बताया कि अभी केंद्र से कोई भी मिलर अटैचमेंट नहीं हुआ है। जिससे क्रय हुए धानों का प्रेषण नहीं हो पा रहा है। संबंधित कर्मचारी के अवकाश पर चले जाने के कारण दिए गए धान का कोई रसीद नहीं दि जा पा रही है। प्राइवेट कर्मियों द्वारा ही काम लिया जा रहा है। उच्च अधिकारियों को समस्या से अवगत कराया गया है। मिलर अटैचमेंट होने के साथ ही अतिरिक्त कांटा लगाते हुए धान क्रय तेजी से शुरू कर दिया जाएगा। जिसके साथ ही संबंधित किसानों के खाते में पैसा भी भेज दिया जाएगा।

Comment