ग़ाज़ीपुर- ’नोवेल कोरोना वायरस’ से जन-सामान्य की सुरक्षा के दृष्टिगत जिलाधिकारी ने की बैठक

प्रखर ब्यूरो ग़ाज़ीपुर। वर्तमान समय में ’नोवेल कोरोना वायरस’ के संक्रमण एवं महामारी के बचाव हेतु जन-सामान्य की सुरक्षा के दृष्टिगत सोमवार को जिलाधिकारी ओमप्रकाश आर्य की अध्यक्षता मे राइफल क्लब सभागार मे बैठक सम्पन्न हुई। जिलाधिकारी ने बैठक मे उपस्थित सभी ई.ओ. नगर पालिका एवं नगर पंचायत को निर्देश दिया कि वे अपने-अपने क्षेत्र मे बाहर से आये हुए व्यक्तियों की सूची, मो.न., कहां से आये है तथा उनका वर्तमान पता की सूची तत्काल उपलव्ध कराने का निर्देश दिया। इसके अतिरिक्त मुख्य विकासअधिकारी ने पहले से प्राप्त व्यक्तियों जो दूसरे देशो तथा अन्य प्रान्तो से आये है, उनकी सूची को सम्बन्धित अधिकारियों को प्रेषित कर निर्देश दिया कि वे उन व्यक्तियों के सम्बन्ध मे अद्यतन सूचना हेतु एक रजिस्टर बना लें तथा प्रत्येक दिन उन पर नजर रखी जाय तथा उनको होम कोरोन्टाइज कराने का निर्देश दिया। यदि इसमे किसी व्यक्ति द्वारा अवहेलना किया जाता है तो इसकी सूचना जिला प्रशासन तथा मुख्य चिकित्साधिकारी एवं सम्बन्धित थाने को उपलव्ध कराये। बाहर से आये प्रत्येक व्यक्ति को यह संदेश दिया जाय कि वे अपने परिवार से भी दूरी बनाये रखे जिससे परिवार मे भी संक्रमण उत्पन्न न हो सके। यदि इसकी सूचना किसी व्यक्ति द्वारा नही दिया जाता है तो इसकी प्राथमिकी दर्ज करायी जाय। ग्रामीण क्षेत्रों मे सभी खण्ड विकास अधिकारी इसका संज्ञान लेते हुए अपने अधीनस्थ सभी अधिकारियो यथा सेक्रेटरी, ग्राम प्रधान तथा अन्य शासकीय कार्य मे लगे लोगों को लगाया जाय। जिलाधिकारी ने उपस्थित सभी अधिकारियों को निर्देश दिया कि इस कार्य हेतु एक रजिस्टर बना लिया जाय, जिसमे सभी होम कोरेन्टाइज प्राप्त कर रहे लोगो की सूची बनाते हुए प्रत्येक दिन उनका वाच करते रहे तथा उनकी सूचना मुख्य चिकित्साधिकारी या सम्बन्धित थाने पर उसकी सूचना दी गयी है या नही इसकी भी सूचना दर्ज करें। उन्होने बताया कि ध्वनि विस्तारण यन्त्रों से ये घोषणा करवा दें कि जो लोग अन्य देशो या बाहर के प्रदेशों से आये है वे अपनी सूचना तत्काल मुख्य चिकित्साधिकारी या सम्बन्धित थानो पर सूचना दें, जिससे उनसे सम्पर्क कर उनकी जांच की जा सके। यदि वे ऐसा नही करते है तो उनके विरूद्ध वैधानिक कार्यवाही की जायेगी। उन्होने सभी नगर पालिका परिषद एवं नगर पंचायत के अध्यक्षो को निर्देश दिया कि इस कार्य मे वे अपने सभी सभासदो या अपने अधीनस्थ सभी कर्मचारियों को इस कार्य मे लगाये। जो व्यक्ति बीमार होेते हुए भी इसकी सूचना नही देता है तो उस पर कार्यवाही की जाय। इसके अतिरिक्त जिलाधिकारी ने निर्देश दिया कि नगर पालिका/नगर पंचायत क्षेत्रो मे ऐसे व्यक्तियों की पहचान की जाय जो रोज कमाते खाते है जैसे रेहणी वाले, खोमचे वाले, ठेले वाले, रिक्शा चालक, मोची एवं अन्य दिहाड़ी मजदूरो का चिंहाकन कर उनका मो.नं. आधार कार्ड, खाता सं. की सूचना पहले से ही प्राप्त कर ले। इसके अतिरिक्त ऐसे व्यक्तियो की सूचना प्राप्त की जाय जिन्हे किसी शासकीय योजनाओ का लाभ नही मिल सका है, गरीब हो, ऐसे व्यक्तियों की भी सूचना एकत्र कर लिया जाय। इस कार्य मे कोई व्यक्ति छूटने न पाये जो बाहर से आये हुए है। बच्चो एवं वृद्धजनो मे यह रोग ज्यादा प्रभावी होता है इसकी सूचना भी प्रसारित कराया जाय।
बैठक में मुख्य विकास अधिकारी श्री प्रकाश गुप्ता, अपर जिलाधिकारी वि.रा. राजेश कुमार सिंह, समस्त उपजिलाधिकारी,समस्त नगर पलिका परिषद/नगर पंचायत के अधिशासी अधिकारी तथा अन्य सम्बन्धित अधिकारी उपस्थित थे।