ग़ाज़ीपुर- कच्ची सब्जी, दूध का पैकेट छुएं तो फौरन हाथ धोएं

– कोरोना वायरस से बचने के लिए विशेषज्ञों ने दी सलाह

– डोरबेल, कूड़ादान, दरवाजे के हैंडल, नोट व सिक्के छुएं तो फौरन करें हाथों को सेनेटाइज़, जरा सी लापरवाही आपको कर सकती है परेशान

प्रखर ब्यूरो ग़ाज़ीपुर। सरकार ने पूरे देश में 21 दिन का लॉकडाउन आपके सुरक्षित व स्वस्थ रहने के लिए ही किया है, लेकिन घर में रहकर आप द्वारा की गई छोटी सी चूक आपको कोरोना के नजदीक ला सकती है। लिहाजा सावधानी बरतें ताकि आप सभी महफूज रह सकें।
विशेषज्ञों के मुताबिक घर में आई कच्ची सब्जी और फल को यूं ही नंगे हाथों से न पकड़ें। हाथों में गलव्ज़ लगाकर सब्जी को लें और फौरन धोएं। अगर नंगे हाथों में ले भी रहे हैं तो फौरन हाथों को सेनेटाइज करें। विशेषज्ञों का मानना है कि सब्जी भी आपको संक्रमण दे सकती है। इसी तरह दूध के पैकेट लेने जाते वक्त झोला साथ ले जाएं। कतई नंगे हाथों में न पकड़ें। अगर पकड़ना मजबूरी हो तो घर आते ही फौरन हाथ धोएं।
एसीएमओ डॉ. के.के. वर्मा के मुताबिक डोरबेल, कूड़ादान, लिफ्ट के बटन, कार के दरवाजे, बगीचे के फूल, जूते-चप्पल, दरवाजे के हैंडल और नोट व सिक्के जब भी छुएं तो हाथ फौरन धोएं, जरा भी कोताई न करें। उन्होंने कहाकि बच्चों व बुजुर्गों के लिए तो यह वायरस है ही नुकसानदेह, जवानों को भी लापरवाही नहीं करनी चाहिए। एसीएमओ डॉ. डी.पी. सिन्हा के मुताबिक जिन लोगों को डायबिटीज और ब्लड प्रेशर की शिकायत रहती है वह दवाएं खाते रहें और अपने डॉक्टर के संपर्क में रहें। उन्होंने कहा कि खांसी आए या छींक, हाथ फौरन साबुन से धोएं। कोरोना वायरस से बचने के लिए सावधानी बरतना ही सबसे कारगर उपाय है। उन्होंने कहा कि खांसी या बुखार के लक्षण होने या सांस लेने में तकलीफ होने पर फौरन सरकारी अस्पताल में दिखाएं।