ग़ाज़ीपुर- जिलाधिकारी ने समस्त धर्मो के धर्म गुरूओ के साथ की बैठक

प्रखर ब्यूरो ग़ाज़ीपुर। कोविड-19 (कोरोना वायरस) के महामारी जैसे घातक रोग के रोक थाम हेतु एंव उसके बढ रहे विस्तार को रोकने के सम्बन्ध में शुक्रवार को जिलाधिकारी ओम प्रकाश आर्य की अध्यक्षता में जनपद के समस्त धर्मो के धर्म गुरूओ के साथ राईफल क्लब सभागार में बैठक सम्पन्न हुई। बैठक में जिलाधिकारी ने उपस्थित धर्म गुरूओ से वार्ता करते हुए कहा कि यह एक घातक बिमारी है जो किसी जात पात या सम्प्रदाय नही देखती। जो भी इसके सम्पर्क मे आयेगा वह प्रभावित हो जायेगा। इस जनपद में कोरोना वायरस के एक भी केस पॉजीटिव नही पाये गये थे। परन्तु दिल्ली स्थिति निजामुद्दीन मरकज से आये 11 लोगो में से दो लोगो का कोरोना टेस्ट जॉच हेतु भेजा गया था, जिसमें एक व्यक्ति का रिपोर्ट पॉजीटिव पाया गया। जिलाधिकारी ने सभी धर्म गुरूओ से अपील किया कि जनपद में मरकज से आये 11 व्यक्तियो के अतिरिक्त यदि कोई अन्य व्यक्ति बिमार होता हुए भी उसकी सूचना जिला प्रशासन से छिपाता है तो उस व्यक्ति के साथ ही शरण देने वाले व्यक्ति के उपर भी वैधानिक कार्यवाही की जायेगी। उन्होने कहा कि इस समय जनपद मे इस महामारी से बचाव हेतु यह विशेष ध्यान देना होगा कि मरकज से आये हुए लोग किन किन स्थानो पर गये और किस किस से मिले तथा कहा-कहा रूके। इसकी भी सूचना उपलब्ध कराये, जिससे सम्पर्क वाले व्यक्ति को भी सुरक्षा के दृष्टिकोण से क्यूरोटाइन किया जा सके। जिलाधिकारी ने बताया कि इस कोरोना महामारी से बचाव हेतु एक ही उपाय है कि लोग अपने अपने घरो में रहे, फालतू सड़को पर न घूमे, मास्क, सेनेटाइजर का प्रयोग करे। लॉक डाउन का शत-प्रतिशत पालन करते हुए शोसल डिस्टेन्स बनाये रखे, तभी इस भयानक आपदा से बचा जा सकता है। इस दौरान पुलिस अधीक्षक ओम प्रकाश सिंह ने अपने सम्बोधन मे कहा कि जनपद में कन्ट्रोल रूम बनाये गये है। अगर किसी व्यक्ति को कोई भी सूचना प्राप्त होती है तो वो ततकाल दूूरभाष नम्बर 0548-2226001, 2226002 अथवा 2224041 पर अवगत कराये। बैठक में मुख्य विकास अधिकारी श्री प्रकाश गुप्ता, उपजिलाधिकरी सदर प्रभाष कुमार एंव सभी धर्म के धर्मगुरू उपस्थित थे।