ग़ाज़ीपुर- फादर फेलिक्स राज पहुंचे भूखों के मध्य, किया खाद्य सामग्री का वितरण

प्रखर ब्यूरो गाजीपुर। जनपद में लाकडाउन की घोषणा होते ही पूरे जनपद में अन्य जनपद के बहुत से लोग अपने परिवार एवं कुनबे के साथ फंस गये है। करीमुद्दीनपुर थानाक्षेत्र के कामुपुर में गांधीनगर बाराचंवर मार्ग पर एक स्कूल के पास जालौन जनपद के तीन परिवार फंस गये है। इनका मुख्य पेशा जडी बूटी बेचना एवं मदारी सर्कस दिखा कर जनता का मनोरंजन कर अपना एवं अपने परिवार की भूख मिटाना है। हार्टमन इण्टर कालेज हार्टमन पुर के प्रधानाचार्य फादर फेलिक्स राज जरूरतमंद एवं अभाव ग्रस्त गरीब बेसहारा लोगों की सहायता के लिए अपने विद्यालय के कर्मचारी के साथ क्षेत्र में थे तभी उनकी नजर फटे तिरपाल एवं पेंड के नीचे सोये परिवार एवं खेलते छोटे छोटे बच्चों के उपर गयी। फादर फेलिक्स राज ने फौरन गाडी बैक कर निर्मल राम को उनके पास भेजा। अपने मध्य किसी को लाकडाउन में भूख मिटाने के लिए आये देवदूत को पाकर सभी परिजन फादर के पास आ गये। फादर फेलिक्स ने उनसे उनका निवास जानने का प्रयास किया तो वह सभी अपने को जालौन का निवासी बताये। उन्हे अभी तक किसी प्रकार की कोइ सहायता लाकडाउन में नहीं मिली थी। फादर फेलिक्स के द्वारा तीनों परिवार को चावल, दाल, आलू, नमक, तेल, साबून समेत प्रत्येक परिवार को बारह बारह किलो खाद्यान्न उपलब्ध कराया गया। खाद्यान्न पाकर उनकी आंखो से स्वतः आंशू छलक पडे। उन सभी परिवार के सदस्यों ने रूधे गले एवं छलकती आंखो से परमेश्वर के दूत के प्रति आभार ब्यक्त किया। उन सभी ने कहा की आप की यह नि:स्वार्थ सेवा और सहयोग की भावना आदरणीय है। हम लोगों को सपने में भी ऐसी मदद की इस लाकडाउन में आशा नहीं थी। निश्चित रूप से परमात्मा ने ही आपको हमारी मदद करने के लिए भेजा है। फादर फेलिक्स ने उन्हें आगे भी सहयोग का भरोसा दिया।