ग़ाज़ीपुर- जब भी बाहर निकले मॉस्क जरूर लगाएं

– छींकने और खांसने से होने वाले संक्रमण से करेगा बचाव

– मॉस्क लगाने व इस्तेमाल का सही तरीका जानना जरूरी

– घर पर भी आसानी से बनाया जा सकता है मॉस्क

प्रखर ब्यूरो ग़ाज़ीपुर। कोरोना वायरस(कोविड-19) एक व्यक्ति से दूसरे व्यक्ति के संपर्क में आने से आसानी से फैलता है। फेस कवर(मॉस्क) पहनने से किसी संक्रमित व्यक्ति से हवा में मौजूद थूक की बूंदों के माध्यम से कोरोना वायरस के स्वसन तंत्र में प्रवेश करने की सम्भावना कम रहती है। इसी को ध्यान में रखते हुए प्रदेश सरकार द्वारा घर से बाहर निकलने पर हर किसी को मॉस्क पहनना अनिवार्य कर दिया गया है। इसका उल्लंघन करने पर कार्रवाई भी हो सकती है। इसी क्रम में स्वास्थ्य विभाग भी लोगों को बाहर निकलने पर मास्क लगाने और घर पर मास्क बनाने के बारे में जागरूक करने में जुट गया है। इसके प्रचार-प्रसार के लिए पोस्टर और पम्पलेट का भी सहारा लिया जा रहा है, जिसमें जिक्र है कि बाजार में मॉस्क न मिलने पर उसे आसानी से घर पर भी बनाया जा सकता है । इसके लिए मोटे फैब्रिक, काटन टी शर्ट या बनियान को परतों में काटकर मॉस्क बना सकते हैं। मोटा फैब्रिक होने से वह सुरक्षित रहेगा और उसे धोने में भी आसानी होगी। स्कार्फ या रुमाल को अगर मास्क की जगह इस्तेमाल कर रहे हैं तो उसके भी भी दो-तीन फोल्ड कर लें ताकि कपड़े की परतें बनी रहें। घरेलू मास्क को दोबारा इस्तेमाल से पहले अच्छी तरह से धो लें। एसीएमओ डॉ. के.के. वर्मा ने बताया कि मास्क को साबुन और गरम पानी में अच्छे से धोएं और इसे धूप में कम से कम पांच घंटे तक सूखने दें। यदि धूप उपलब्ध नहीं है तो मास्क को प्रेशर कुकर में पानी डालें और इसे कम से कम 10 मिनट तक उबालें और सूखने दें। पानी में नमक डालना बेहतर रहेगा। प्रेशर कुकर न होने पर कपड़े के मास्क को 15 मिनट तक गर्म पानी में उबाल सकते हैं। परिवार के हर सदस्य के पास कम से कम दो मास्क होने चाहिए ताकि एक को पहन सकें और दूसरे को धोकर सुखा सकें। ध्यान रहे अपने मास्क को किसी से भी शेयर न करें। जिस प्लास्टिक बैग में मास्क रखें उसे भी साबुन-पानी से ठीक से धोकर सुखा लें उसके बाद मास्क रखकर सील कर दें।
इन बातों का रखें ख्याल-
– मॉस्क को पहनने से पहले हाथों को अच्छी तरह से धोएं
– सुनिश्चित करें कि मॉस्क चेहरे पर अच्छी तरह से फिट हो तथा किनारों से कोई गैप न हो
– मॉस्क के सामने की सतह को न छुएँ, उतारते समय इसे पट्टी की तरफ से पीछे से निकालें
– हमेशा पट्टी को नीचे और उसके बाद ऊपर की तरफ से खोलें
– उतारने के बाद मॉस्क को तुरंत साबुन के घोल या उबलते पानी में डालें
– मॉस्क को हटाने के बाद हाथों को 40 सेकण्ड तक साबुन व पानी से धोएं या तो अल्कोहल वाले सेनेटाइजर का इस्तेमाल करें
बरतें सावधानी :
– मॉस्क तभी प्रभावी हो सकते हैं जब उन्हें इस्तेमाल करने के साथ-साथ बार-बार साबुन और पानी से 40 सेकण्ड तक हाथ धोया जाए
– हर समय दूसरे व्यक्ति से दो मीटर की दूरी बनाकर रखें
– बाहर से घर आने पर हाथों को अच्छे से धोएं तथा अपने चेहरे या आँख को न छुएँ
विशेष जानकारी के लिए संपर्क करें- ध्यान रहे कोरोना संक्रमण के लक्षण- सुखी खाँसी, तेज बुखार, सांस फूलना, तीनों या इसमें से कोई भी दिखने पर जैसे सांस फूलना या अत्यधिक तेज बुखार होने पर तुरंत स्वास्थ्य विभाग के टोल फ्री नंबर 1800-180-5145 अथवा अपने जनपद के मुख्य चिकित्सा अधिकारी/ जिला सर्विलेंस अधिकारी से तुरंत संपर्क करें।