ग़ाज़ीपुर- हजारों लोगों तक भोजन पहुँचा रहे विजय मिश्र और उनकी टीम की जितनी भी प्रशंसा की जाए कम है- राजकुमार पाण्डेय

प्रखर ब्यूरो गाजीपुर। लाकडाउन के दौरान जनपद के साथ ही देश भर में जारी सेवा कार्य के दौरान जरूरतमंदो के लिए अपने मदद का हाथ आगे बढ़ा कर जिस तरह अपनी संवेदना का परिचय दिया है, यही तो हमारे देवभूमि भारत एवं भारतीय संस्कृति की मुख्य विशेषता रही है। उक्त बातें अपने आवास से संचालित जरूरतमंदो में भोजन वितरण कार्यक्रम के आज बीसवें दिन शनिवार को कोरोंना महामारी के दौरान देशव्यापी लाकडाउन में फंसे लोगों के सहायतार्थ अपना योगदान दे रहे देश की सुसम्पन्न जनता, पुलिसकर्मी, चिकित्साकर्मी, सफाईकर्मी, दवा व वैक्सीन के खोज में लगे वैज्ञानिक एवं सामाचार जगत से जुड़े मीडियाकर्मी साथियों सहित इस नेक कार्य में लगे हिंन्दुस्तान भर के समस्त समाजसेवियों के सम्मान में बोलते हुए पूर्व धर्मार्थ कार्य मंत्री विजय कुमार मिश्र ने कहीं। इस क्रम में आगे श्री मिश्र ने नगर के नवाबगंज, जमलापुर कागदी महाल, पंडाटोली, झिंगुरपट्टी, लकड़ी टाल, रजागंज, मुफ्तीपुरा, स्टीमरघाट, किला कोहना, टेढ़ी बाजार, गायत्रीनगर, झंडातर, नियाजी, कलेक्टर घाट, रायगंज, संगत कला, नौरंगाबाद, कपूरपुर, सुजावलपुर, सकलेनाबाद नई बस्ती, आमघाट पानी टंकी, विश्वेश्वरगंज, नवापुरा, शास्त्रीनगर, सिकन्दरपुर, गोराबाजार आदि मुहल्लो में निवास कर रहे घरों में कैद जरूरतमंदो तक सुबह-शाम दोनों वक्त भोजन पैकेट की उपलब्धता हर हाल में सुनिश्चित कराये जाने के उद्देश्य से स्थापित भोजनालय में 25001 की धनराशि वरिष्ठ समाजसेवी राजकुमार पाण्डेय ने दिया। इस दौरान श्री पाण्डेय ने कहा कि पूर्व मंत्री विजय मिश्र के आवास से संचालित भोजनालय से हजारों लोगों में भोजन वितरण अनवरत 20 दिनों से किया जा रहा है, जिसको देखते हुए विजय मिश्र की जितनी भी प्रशंसा की जाए कम है। क्योंकि इस प्रयास से सैकड़ों परिवारों तक भोजन वितरण कार्यक्रम अनवरत जारी है। बतादें कि समाजसेवी राजकुमार पाण्डेय ने कुछ दिन पूर्व ही अपने करण्डा क्षेत्र में दिव्यांगजनो एवं जरूरतमंदों को एक लाख की आर्थिक सहायता पहुचाने का काम किया था। इस दौरान खाद्य सामग्री प्रदान कर इस नेक अभियान को गति देने का कार्य करने वाले राहुल मिश्र एवं राजू गुप्ता नवाबगंज के कार्य को अतुलनीय एवं महान बताकर इनके प्रति हृदय से साधुवाद प्रकट करते हुए आज दिन शनिवार को जरूरतमंदो के बीच सुबह (सब्जी युक्त पौष्टिक खिचड़ी) एवं शाम को वितरण हेतु तैयार हो रहे बाटी-चोखा को कुल 2300 से अधिक लोगों के दरवाजे तक जाकर भोजन पैकेट का सुरक्षित रूप से वितरण करने का कार्य किया गया। इसमें लगे अपने सभी वालंटियर्स के प्रति विजय मिश्र ने धन्यवाद ज्ञापित किया।