ग़ाज़ीपुर- कोटा से जनपद में आये छात्र-छात्राओं का किया जा रहा मेडिकल स्क्रीनिंग, 14 दिन रहेंगे क्वॉरेंटाइन में

prakhar purvanchal
prakhar purvanchal
prakhar purvanchal
prakhar purvanchal

प्रखर ब्यूरो गाजीपुर। लॉकडाउन के कारण कोटा में फंसे छात्रों को लगभग 24 दिनों बाद शनिवार की देर रात जनपद में लाया गया। यह सभी छात्र राजस्थान कोटा में अलग-अलग संस्थाओं में पढ़ रहे थे। इन सब छात्रों के लॉक डाउन के कारण फसे होने की सूचना पर यूपी सरकार द्वारा सारे छात्रों को घर पहुचाने का काम किया गया, जिससे बच्चो और अभिभावकों में खुशी का माहौल व्याप्त है। गाज़ीपुर आए छात्रों में काफी संख्या में हिन्दू और मुस्लिम छात्र और छात्राएं हैं, जो अपने गृह जनपद पहुच कर काफी खुश हैं और सरकार को धन्यवाद दे रहे हैं। बतादें कि इन सभी छात्रों का थर्मल स्क्रीनिंग और प्राथमिक जांच स्वास्थ विभाग द्वारा किया जा रहा है। सभी छात्र छात्राओं का जांच के साथ उनके खाने और रहने का फिलहाल प्रबंध जिला प्रशासन द्वारा किया गया है। जिलाधिकारी ओम प्रकाश आर्य ने बताया कि इन सभी बच्चों की जांच करने के बाद अगर जरूरत पड़ी तो रोक कर इनको क्वॉरेंटाइन किया जाएगा और अगर यह जांच में ठीक पाए जाते हैं तो इनको घर तक पहुंचाया जाएगा। लेकिन वे घर पर भी 14 दिन क्वॉरेंटाइन में ही रहेंगे।