ग़ाज़ीपुर- जनसहयोग से संचालित हो रहे भोजनालय से हजारों जरूरतमंदों में किया गया भोजन का वितरण

प्रखर ब्यूरो गाजीपुर। देश व्यापी लाकडाउन के दौरान पूर्व धर्मार्थ कार्य मंत्री विजय मिश्र के आवास से जनसहयोग से संचालित हो रहे भोजनालय से आज भी हजारों जरूरतमंदों में भोजन का वितरण किया गया। दिहाड़ी मजदूरों एवं ज़रूरतमन्दों के लिए पूर्व धर्मार्थ कार्य मंत्री विजय कुमार मिश्र ने एक अपील पर जनपद के लोगो से किया कि जरूररतमंदो के लिए जनसहयोग से स्थापित भोजनालय में बिना रूके व बिना थके लगातार विगत उन्तालीस दिनों से सुबह-शाम दोनों वक्त प्रतिदिन लगभग 4000 हजार लोगों के लिए भोजन तैयार करने के में आप सभी का अपार सहयोग प्राप्त हो रहा है और आगे भी होता रहेगा इसकी कामना करता हु। भोजन वितरण के इस कार्य में अमूल्य समय व श्रमदान से अपना योगदान कर रहे है कर्तव्ययोगी साथियों का भीषरी मिश्र ने धन्यवाद ज्ञापित किया। भोजन वितरण के 40वें दिन “कोई भुखा न सोये” इस संकल्प के साथ संचालित नेक पहल से खुद को जोड़ते हुए आज के दानदाता यूनानी आयुर्वेदिक मेडिकल कॉलेज सहेड़ी के संस्थापक एवं शम्मै हुसैनी ट्रामा सेंटर के प्रबंध निदेशक डॉ. मो. आजम कादरी ने एक तरफ जहाँ नगद धनराशि से अपना सहयोग प्रदान किया, वहीं दूसरी तरफ ग्राम प्रधान डिलिया अनिल बिन्द सहित शुभम केशरी ने अपने जन्मदिन को जरूरतमंदो की मदद से जोड़ते हुए खाद्य सामग्री के माध्यम से अपनी दरियादिली दिखाई। इनके कार्य को सराहनीय बताते हुए श्री मिश्र ने सबके प्रति हार्दिक साधुवाद प्रकट करने के साथ ही कहा कि यही तो हमारे भारतीय समाज व संस्कृति की विशेषता रही है, जिसकी बदौलत चुनौती चाहे जैसी भी क्यों न रही हो देश ने हमेशा उसे हंसते हुए पार किया है और इस जंग में भी हिन्दुस्तान की जीत पक्की है। श्री मिश्र ने बताया कि आज सुबह में वितरित कियें गये भोजन में पूड़ी-सब्जी एवं शाम को वितरण हेतु तैयार हो रहे सब्जी युक्त पौष्टिक तहरी को मिलाकर कुल लगभग चार हजार से अधिक लोगों के दरवाजे तक जाकर सुरक्षित रूप से गाजीपुर नगर के मुहल्ला गोराबाजार, तडबनवां, तुलसीसागर, सिकंदरपुर, शास्त्रीनगर, नवापुरा, महुआबाग, विशेश्वरगंज, नई बस्ती, सकलेनाबाद, आमघाट, नियाजी, हरिशंकरी, महाजन टोली, रायगंज, सुजावलपुर, रजदेपुर, मच्छरहट्टा, स्टीमरघाट, नुरूद्दीनपुरा, झंडातर, मल्लाह टोली, टेढ़ी बाजार, नवाबगंज, जमलापुर, रुईमंडी, गायत्रीनगर, मुगलपुरा, पंडाटोली, रजागंज, मुक्तीपुरा आदि में भोजन का वितरण किया गया।