ग़ाज़ीपुर- मनरेगा कार्यों में अनियमितता और धांधली का आरोप लगाते हुए दर्जनों मजदूरों ने किया हंगामा

प्रखर ब्यूरो सेवराई/ग़ाज़ीपुर। भदौरा ब्लाक अंतर्गत स्थानीय गांव में हो रहे मनरेगा कार्यों में अनियमितता और धांधली का आरोप लगाते हुए दर्जनों मजदूरों ने हंगामा शुरू कर दिया। ग्रामीणों के शोर मचाने के दौरान करीब आधा घंटा तक कार्य प्रभावित रहा।
जानकारी के अनुसार कोविड-19 महामारी में लॉक डाउन के दौरान मजदूरो को भरण पोषण के लिए मनरेगा अंतर्गत कार्य कराए जाना प्रस्तावित है। भदौरा विकासखंड के भदौरा गांव में दूसरे गांव के मजदूरों द्वारा कार्य कराते हुए धांधली की जा रही थी। अपने कार्यों की मांग लेकर पहुंचे गांव के दर्जनों मजदूरों ने दूसरे गांव के मजदूरों को देखकर हंगामा शुरू कर दिया। मजदूरों ने आरोप लगाया कि रात में जेसीबी से कार्य करवा दूसरे गांव के मजदूरों द्वारा जेसीबी द्वारा हुए कार्य को छिपाया जा रहा है। मजदूरों को इस बात की भनक लगते ही मौके पर ही हंगामा शुरू कर दिया। कुछ मजदूरों ने जॉब कार्ड धारकों से आई मजदूरी की राशि को भी वसूलने का आरोप लगाया। हंगामे की खबर मिलते ही वहां ग्रामीणों कि भीड़ लग गई। सूचना पाकर मौके पर पहुंचे ग्राम प्रधान धर्मेंद्र कुशवाहा ने ग्रामीणों के हंगामे के बाद दूसरे गांव के मजदूरों को हटाते हुए गांव के ही मजदूरों द्वारा कार्य शुरू करा किसी तरह मामला शांत कराया। इस बाबत एपीओ मनीष सिंह ने बताया कि हंगामे की शिकायत मिली थी मौके पर जाकर जांच पड़ताल की गई है। दूसरे गांव के मजदूरों द्वारा कार्य कराए जाने पर मजदूरों ने हंगामा किया था, जिन्हें काम पर लगाते हुए मामला शांत कराया गया।