ग़ाज़ीपुर- मनोज सिन्हा का प्रयास लाया रंग, दुबई कमाने गए व्यक्ति का शव आया गृह जनपद

प्रखर ब्यूरो जखनियां/ग़ाज़ीपुर। विकास पुरुष मनोज सिन्हा जखनिया क्षेत्र के लिए एक बार पुनः मानवता की मिसाल पेश किए और साबित किया कि भले ही कुछ लोग उनको सांसद के रूप में इस बार नापसंद किए, लेकिन फिर भी उनका दिल, दिमाग इस क्षेत्र के लिए लगा रहता है। ग्राम सभा रामबन पोस्ट जखनियां के निवासी हरिनाथ चौहान पुत्र बैजनाथ चौहान जो दुबई कमाने गए हुए थे। वहां उनकी अकस्मात मृत्यु 30 अप्रैल 2020 को हो गयी। पर लॉक डाउन के चलते उनका शव घर नहीं आ पाया था। जिसको लेकर उनके परिजन काफी परेशान थे और उनके पुत्र धर्मेंद्र चौहान ने 9 मई 2020 को डीएम को पत्र लिखकर गुहार लगाई थी, पर संतोषजनक सफलता नहीं मिली। तब उनके पुत्र ने जखनिया के प्रमुख भाजपा कार्यकर्ता भाजयुमो जिला उपाध्यक्ष प्रमोद वर्मा एवं मंडल अध्यक्ष उमाशंकर यादव से इस विषय की जानकारी दी। इसकी जानकारी पाकर तुरंत प्रमोद वर्मा ने भाजपा जिला अध्यक्ष भानु प्रताप सिंह को एवं पूर्व सांसद एवं कैबिनेट मंत्री मनोज सिन्हा को इस पूरे विषय से अवगत कराया। मनोज सिन्हा ने इस विषय को गंभीरता से लिया, बातचीत किया और पूरे डाक्यूमेंट्स मंगवाए और अपने स्तर से संबंधित मंत्रालय को भेज कर अपने क्षेत्र के व्यक्ति के शव को मंगाने के लिए पूरा प्रयास किया। जिसका परिणाम रहा कि आज स्वर्गीय हरिनाथ चौहान का शव उनके देश आ गया और शाम तक उनके घर पहुंच जायेगा। उनके परिजन और पुत्र धर्मेंद्र कुशवाहा ने पार्टी कार्यकर्ताओं को एवं मनोज सिन्हा के प्रति हार्दिक आभार प्रगट किया। उनके चेहरे पर गम के साथ खुशी भी थी कि मनोज सिन्हा के वजह से उनके पिता का पार्थिव शरीर उनके घर पहुंच रहा है। इस मौके पर भाजयुमो जिला उपाध्यक्ष प्रमोद वर्मा ने कहा जब भी ऐसी घटनाएं घटी हैं, मनोज सिन्हा जी ने हमेशा मानवता का परिचय दिया है। इसके पूर्व जब वह सांसद थे तो एक बहरियाबाद का भी मामला आया था, जिसका निदान उन्होंने करवाया था और आज सांसद न रहते हुए भी उतनी ही गंभीरता के साथ इस मामले का भी निराकरण कराया। यही सोच मनोज सिन्हा जी को सबसे अलग करती है। वर्मा ने कहा मनोज सिन्हा जी गाजीपुर के कोहिनूर हीरा हैं। जिसको यहां के लोगों ने खोकर अपने ही पैर में कुल्हाड़ी मार लिया है। मनोज सिन्हा जी इस लॉक डाउन में भी जनपद से दूर रहते हुए भी जरूरतमंदों के लिए पर्याप्त मात्रा में मोदी कीट उपलब्ध करवाया। क्षेत्र के लोगों में इस विषय की काफी चर्चा थी लोग उनके इस कार्य की प्रशंसा कर रहे और साथ ही लोगों को अफसोस भी था कि ऐसा सांसद को दोबारा क्यों ना हम लोग जिता सकें।