ग़ाज़ीपुर- अब जिले में ही हो सकेगी कोविड की जांच

– एक-दो दिन में आ जाएगी मशीन, टीबी की भी जांच संभव

प्रखर ब्यूरो ग़ाज़ीपुर। कोरोना की जांच आने वाले कुछ दिनों में जिले में ही संभव हो सकेगी, इसके साथ टीबी की भी जांच उसी मशीन के जरिये संभव हो सकेगी। ट्विन माड्यूल थ्रू नॉट मशीन प्रदेश के 55 जनपदों में भेजे जाने की कवायद शुरू कर दी गयी है। अगले एक या दो दिन में गाजीपुर के जिला अस्पताल मे यह मशीन स्थापित की जाएगी, जिससे कोरोना संभावित मरीजों के साथ ही क्षय रोगियों की भी जांच आसानी से हो सकेगी। यह कहना है जिला क्षय रोग अधिकारी व एसीएमओ डॉ. के.के. वर्मा का। डॉ. वर्मा ने बताया कि क्षय रोगियों की जांच के लिए चार मशीनें चार ब्लॉकों भदौरा, कासिमाबाद, सैदपुर और जखनिया में स्थापित की जानी थीं, लेकिन किन्ही कारणोंवश यह मशीन अब तक नहीं आ पाई थी। हालांकि अब शासन इस मशीन का नया वर्जन जनपद में भेज रहा है, जिसे जिला अस्पताल में स्थापित किया जाएगा तथा मुख्य चिकित्सा अधीक्षक को इसकी कमान सौंपी जाएगी। जिला क्षय रोग अधिकारी ने बताया कि इस मशीन को जिला अस्पताल में लगाए जाने के बाद कोविड-19 के मरीजों की जांच और उनकी रिपोर्ट आने में समय की काफी बचत होगी और जांच प्रक्रिया में तेजी आएगी। इस मशीन से कोविड-19 के संभावित मरीजों की जांच जनपद में ही हो सकेगी और जो मरीज पॉजिटिव पाए जाएंगे उसकी रिपोर्ट वेरिफिकेशन के लिए वाराणसी स्थित बीएचयू भेजा जाएगा। उन्होंने बताया कि इस मशीन के संचालन के लिए पांच जून को जिला अस्पताल में तैनात लैब टैकनीशियन का प्रशिक्षण भी कराया जाएगा ताकि इसका संचालन सही तरीके से किया जा सके।