ग़ाज़ीपुर- जिलाधिकारी की अध्यक्षता में किसान दिवस का हुआ आयोजन

प्रखर ब्यूरो ग़ाज़ीपुर। जिलाधिकारी ओम प्रकाश आर्य की अध्यक्षता में गुरुवार को किसान दिवस का आयोजन विकास भवन सभागार मे आयोजित किया गया। इस बैठक मे किसानों द्वारा पिछले किसान दिवस के कार्यवृत्ति की मांग की गयी, जिसपर उप कृषि निदेशक ने पिछली बैठक की कार्यवाही की प्रति किसानों को उपलव्ध कराया। बैठक कृषि विभाग एवं उद्यान विभाग के अधिकारियों द्वारा अपने-अपने विभाग द्वारा संचालित योजनाओं की जानकारी किसानों को प्रदान किया गया। उद्यान अधिकारी द्वारा औद्यानिक मिशन के अन्तर्गत केले की खेती, प्रधानमंत्री सिचाई योजना एवं मिर्च का विदेशों मे निर्यात के सम्बन्ध मे आवश्यक जानकारी दी गयी और बताया गया कि इसमे पहले किसानों को पहले से रजिस्ट्रेशन कराना होगा। इसी प्रकार विभाग द्वारा पान की खेती व गंगा किनारे के गांवों मे फलदार वृक्ष लगाने की योजना चलायी जा रही है। इस हेतु किसी भी कार्य दिवस मे उद्यान विभाग से सम्पर्क किया जा सकता है। किसानों द्वारा अन्य जिलो के कृषि सेन्टरो पर भ्रमण हेतु भेजे जाने का अनुरोध किया गया, जिससे किसानो को उन्नतशील खेती के बारे मे बेहतर जानकारी प्राप्त हो सके। जिलाधिकारी ने दैवी आपदा से हुई क्षति का सर्वे तत्काल कराने का निर्देश सम्बन्धित अधिकारियेां को दिया। ग्राम सरवनडीह मे नहरो मे पानी की समस्या पर जानकारी दी गयी कि वहां पर गेट बना दिया गया है। जिसपर जिलाधिकारी ने शीध्र ही समस्या का समाधान हो जायेगा का अस्वासन दिया। भावरकोल मे धान क्रय केन्द्र का भुगतान न होने तथा धान डम्प की शिकायत पर जिलाधिकारी ने अबिलम्ब किसानों का भुगतान करने एवं डम्प धान को गोदाम मे पहुचाने का निर्देश सम्बन्धित अधिकारियों को दिया। इस सम्बन्ध मे क्रय एजेन्सियों ने बताया कि भुगतान की प्रक्रिया मे बदलाव के कारण ऐसी समस्या आ रही है। शीध्र ही इसका समाधान कर लिया जायेगा। बैठक के दौरान जगदीश दानव ने अपनी शिकायत मे बताया कि उद्यान विभाग मे मेरा प्रकरण अधिक दिनों से लम्बित है जिलाधिकारी ने उद्यान अधिकारी को प्रकरण निस्तारण का निर्देश दिया। बाबू लाल मानव ने बीमा कम्पनियों की शिकायत की जिस पर जिलाधिकारी ने कृषि निदेशक को पत्र लिखने का आदेश दिया। नहरो की अधिक शिकायत पर जिलाधिकारी ने खुद अपनी देख-रेख मे मानीटरिंग करने को कहा, जिससे नहरो मे पानी उपलव्धता सुनिश्चित करायी जा सके।
इस अवसर पर मुख्य विकास अधिकारी श्री प्रकाश गुप्ता, उप निदेशक कृषि, जिला कृषि अधिकारी, जिला उद्यान अधिकारी तथा सिंचाई, नहर एवं अन्य सम्बन्धित विभाग के अधिकारी सहित सम्मानित किसान बन्धु उपस्थित रहे।