ग़ाज़ीपुर- चकबंदी कार्यालय में फांसी के फंदे से लटकता मिला चकबंदी लेखपाल का शव, फैली सनसनी

प्रखर ब्यूरो ग़ाज़ीपुर। नगर के शास्त्री नगर स्थित चकबंदी कार्यालय में चकबंदी लेखपाल इन्द्रेश यादव (28 वर्ष) का शव गुरुवार की सुबह संदिग्ध परिस्थिति में फंदे से लटकता हुआ मिला। इस घटना से क्षेत्र में सनसनी फैल गईं। आज़मगढ़ निवासी इन्द्रेश 2016 बैच के चकबंदी लेखपाल पद पर कार्यरत थे और वर्तमान में कासिमाबाद के रायपुर बाड़ा का कार्यभार संभाल हुए थे। पुलिस ने मौके पर पहुचकर जांच शुरू कर दी है। पूरा मामला संदिग्ध बना हुआ है।
बता दें कि आज सुबह इंद्रेश का साथी अनिल कुमार जब कार्यालय पहुंचा और दरवाजा देखा कि अंदर से बंद है। काफी देर तक दरवाजा पीटते रहने के बाद भी कोई जवाब नहीं आया। जिसके बाद दरवाजा अनिल ने खोला तो अंदर का नजारा देखकर अनिल घबरा गए। उन्होंने चकबंदी लेखपाल इंद्रेश यादव का शव पंखे से लटकता देख तत्काल पुलिस को सूचना दी। घटना की सूचना मिलते ही सदर कोतवाली इंस्पेक्टर धनंजय मिश्रा ने घटनास्थल की सघन जांच की और शव को उतरवाकर कब्जे में ले लिया। घटना की सूचना पर एसडीएम सदर, सीओ सिटी, सदर कोतवाल, चकबंदी लेखपाल व कर्मचारियों समेत लोगों की भीड़ लग गई। इधर घटना की सूचना मिलते ही इन्द्रेश के परिजनों में कोहराम मच गया।