ग़ाज़ीपुर- कोरोना वायरस से बचाव के लिए स्वास्थ्य विभाग ने जारी की एडवाइजरी

प्रखर ब्यूरो ग़ाज़ीपुर। भारत के पड़ोसी देश चीन में इन दिनों कोरोना वायरस का प्रकोप तेजी से फैल रहा है। जिसकी चपेट में आकर लगातार कई लोगों की मौत हो रही है। वायरस के बढ़ते प्रकोप को देखकर सभी राज्यों में अलर्ट जारी किया गया है। इसी को देखते हुए चिकित्सा एवं स्वास्थ्य विभाग उत्तर प्रदेश की ओर से एडवाइजरी जारी की गई है। यह जानकारी मुख्य चिकित्साधिकारी डॉ. जी.सी. मौर्या ने दी। मुख्य चिकित्सा अधिकारी ने बताया कि स्वास्थ्य विभाग ने कोरोना वायरस को लेकर लोगों को जागरूक करने और इससे बचाव के उपाय के बारे में एडवाइजरी जारी की है ताकि लोग इस वायरस को पहचान सकें और अपना बचाव भी कर सकें।
एसीएमओ डॉ. डी.पी. सिन्हा ने बताया कि ऐसे व्यक्ति जिन्होंने पिछले 14 दिनों के दौरान चीन की यात्रा की हो और जिनमें अचानक बुखार आना, खांसी या सांस लेने में परेशानी हो तो वह तत्काल अपने निकटवर्ती सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र या जिला अस्पताल पहुंचकर नि:शुल्क जांच एवं उपचार कराएं। वहीं ऐसे व्यक्ति जो चीन की यात्रा करने के पश्चात वापस भारत आए हों और उनके आने के 28 दिन के अंदर उपरोक्त में से कोई लक्षण दिखे तो वह भी अपना इलाज पास के स्वास्थ्य केंद्र में जरूर कराएं। कोरोना वायरस के बारे में विस्तृत जानकारी के लिए स्वास्थ्य विभाग ने टोल फ्री नंबर 1800-180-5145 जारी किया है।
कोरोना वायरस एक तरह का संक्रमण है। विश्व स्वास्थ्य संगठन (WHO) इस वायरस को लेकर लोगों को चेता चुका है। यह वायरस एक व्यक्ति से दूसरे व्यक्ति में संक्रमण के जरिए फैलता है। दुनिया के तमाम देशों में यह वायरस चीन से आने वाले यात्रियों के जरिए ही पहुंच रहा है। इस वायरस के लक्षण निमोनिया की ही तरह हैं। यह वायरस कोरोनो वायरस परिवार से संबंध रखने वाला वायरस है। कोरना वायरस जानवरों में भी पाया जाता है। समुद्री जीव-जंतुओं के जरिए यह वायरस चीन के लोगों में फैला है। जुकाम, नाक का बहना, गले में खरांश आदि इस वायरस के प्रमुख लक्षण हैं। वायरस की रोकथाम एवं बचाव के लिए यदि उपरोक्त लक्षण किसी भी व्यक्ति में दिखे तो खाँसते व छीकते समय रुमाल का प्रयोग करें। एक-दूसरे से वार्तालाप के समय उससे दूरी बनाए ताकि थूक आदि के संक्रमित कण एक व्यक्ति से दूसरे व्यक्ति में ना पहुंचे। कम से कम लोगों से हाथ मिलाएं। हाथ मिलाने के बाद तथा किसी संक्रमित वस्तु को छूने आदि के बाद हाथ धो लें। भोजन ग्रहण करने से पहले हाथों को साबुन से जरूर धोएं। भीड़-भाड़ वाले स्थान पर जाने से परहेज करें।