ग़ाज़ीपुर- दोहरे हत्याकांड का पुलिस ने किया खुलासा

प्रखर ब्यूरो गाजीपुर। बीते दिनों हुए दोहरे हत्याकांड का खुलासा शनिवार की दोपहर पुलिस अधीक्षक कार्यालय में प्रेस वार्ता कर पुलिस अधीक्षक डॉक्टर ओम प्रकाश सिंह ने किया। पुलिस अधीक्षक ने बताया कि 9 फरवरी को रात 8:00 बजे नंदगंज क्षेत्र के सिरगीथा के पास दो सगे भाइयों की गोली मारकर हत्या कर दी गई थी, जिसमें टीम गठित कर नंदगंज पुलिस ने हत्यारे कन्हैया उर्फ खुल्ली निवासी सिरगीथा थाना नंदगंज, पीयूष बिंद निवासी सीरगीथा थाना नंदगंज और अश्वनी निवासी सिरगीथा थाना नंदगंज को शुक्रवार की देर रात पुराना कबाड़ी बाजार से गिरफ्तार कर लिया। गिरफ्तार अभियुक्तों के पास से एक देशी पिस्टल 32 बोर, एक मोबाइल और एक मोटरसाइकिल बरामद की गई। पूछताछ के दौरान अभियुक्त कन्हैया ने बताया कि उसका और मृतक विजय के बीच अंबेडकर जयंती में नाच को लेकर मारपीट हुई थी, जिसके खुन्नस में अभियुक्त कन्हैया द्वारा मृतक की गुमटी जला दी गई और जिसमें पंचायत द्वारा मृतक विजय को पांच हजार की जगह 65 हजार दिलवाया गया था और फिर विजय द्वारा अभियुक्त कन्हैया को किसी अन्य मुकदमे में फंसाने की धमकी देने के कारण अभियुक्त कन्हैया और भी नाराज हो गया। इसके बाद कन्हैया ने बदला लेने के लिए अपने साथ अश्वनी और पीयूष को भी सूचना देने व मोटरसाइकिल चलाने के लिए शामिल कर लिया। जब मृतक और उसका भाई प्रधुम्न 9 फरवरी को दुकान बंद करके चला तो अश्वनी ने फोन से कन्हैया को सूचना दी। जिसके बाद पीयूष और कन्हैया मोटरसाइकिल से आए और कन्हैया ने मृतक विजय पर गोली चलाई तब तक मृतक का भाई प्रदुमन लड़ने लगा तो अभियुक्त कन्हैया ने मृतक के भाई प्रदुमन को भी गोली मार दी, जिससे मौके पर ही विजय की मृत्यु हो गई और प्रदुमन की इलाज के दौरान मृत्यु हो गई। अभियुक्तों को गिरफ्तार करने वाली टीम में उपनिरीक्षक विनीत राय और वरिष्ठ उपनिरीक्षक संजय मिश्रा सहित अन्य पुलिसकर्मी शामिल थे। हत्या का खुलासा करने वाली टीम को पुलिस अधीक्षक द्वारा पच्चीस हजार रुपये से पुरस्कृत किया गया।