ग़ाज़ीपुर- मनोज सिन्हा पहुंचे सरैयां एवं कासिमपुर गाँव, चौपाल के माध्यम से जानी ग्रामीणों की समस्याएं

प्रखर ब्यूरो ग़ाज़ीपुर। पूर्व केन्द्रीय रेल राज्य एवं संचार मंत्री स्वतंत्र प्रभार मनोज सिन्हा आज आपसी विवादों के चलते चर्चा एवं प्रशासनिक जद में रहे सुहवल थाना क्षेत्र के सरैयां एवं कासिमपुर गाँव पहुँचे। जहां वो दोनों गाँवों में बारी-बारी चौपाल के माध्यम से ग्रामीणों से मिलकर घटना के कारण तथा व्यथा को जाना। इस दौरान ग्रामीणों ने मनोज सिन्हा से पुलिसिया उत्पीड़न की शिकायत की और घरों में घुसकर तोड-फोड करने के गंभीर आरोप लगाए। इस अवसर पर पूर्व केंद्रीय मंत्री ने कहा कि आपसी सहिष्णुता तथा सौहार्द के बिगड़ने से मानवता प्रभावित होती है और आपसी भाई चारे को नुक़सान होता है। जोश तथा उत्तेजना को सदैव समझदारी की जरूरत होती है। उन्होंने इस पूरी पुलिसिया कार्यवाही के दौरान जिन लोगों को प्रताडित किया गया है इसके लिए प्रदेश शासन से जांच करवाकर न्याय दिलाने का भरोसा दिलाया और आश्वस्त किया कि अब पुलिस की तरफ से गाँव के किसी व्यक्ति को परेशान नहीं होना होगा।
इस अवसर पर भाजपा महामंत्री ओंमप्रकाश राय, विष्णु प्रताप सिंह, सरैयां प्रधान गुड्डू बिन्द, गरूआ मकसूदपुर प्रधान पति संजय राय मंटू, अशोक बिन्द, कृष्णा राय, मुटुर राय, उमा राय आदि लोग मौजूद रहे। इसके अलावा आज पुर्व मंत्री मनोज सिन्हा ने जमानियां कस्बा में करंट लगने से मृत आशुतोष शर्मा, ताजपुर मांझा में भाजपा कार्यकर्ता विक्कु राय की सड़क दुघर्टना में निधन तथा मतसा में ब्रह्मानन्द राय के निधन पर परिजनों से मुलाकात कर शोक संतप्त परिवार को सांत्वना दी।