ग़ाज़ीपुर- सत्संगियों द्वारा किया गया भजन कीर्तन, सत्संग व अमृतवाणी कार्यक्रम का आयोजन

प्रखर ब्यूरो मरदह/ग़ाज़ीपुर। स्थानीय गांव के संत रविदास मंदिर परिसर में सोमवार को बेलसङी धाम के सत्संगियों द्वारा भजन कीर्तन, सत्संग व अमृतवाणी कार्यक्रम को आयोजित किया। धाम के महंत बाल योगी महेश दास ने श्रद्धालुओं को जीवन के उपर उपदेश देते हुए कहा कि मानव सेवा ही सभी धर्मों का सार तत्व है। मानव सेवा से बढ़कर कर जीवन में कोई पुनीत कार्य नहीं है। जब हर धर्मो का मकसद एक है, जब सभी धर्म मानवता का पाठ पढ़ाया है तो हममें आपमें मतभेद क्यों। पूरे विश्व के कल्याण के लिए पूजा पाठ हवन पूजन से ज्ञान की ऊर्जा लेकर शांति का संदेश देना सभी को चाहिए। जरूरत है कि हम इस नश्वर शरीर को पात्र बनाएं। ताकि ईश्वरत्व का सद्रुण रूपी जल उसमें इकठ्ठा हो सके। आज समाज को आडंबर और पाखंड से मुक्ति दिलाने का समय है। बेलसङी धाम मानवता में भगवत्ता का उपदेश देता है। जीवन बहुत अनमोल है, जिसे व्यक्ति को परोपकार में लगाना चाहिए, जिससे जीवन मार्ग सुखमय रहे। इस अवसर पर आयोजित विशाल भण्डारेे में हजारों श्रद्धालुओं ने प्रसाद ग्रहण कर महंत महेश दास से आर्शीवाद लिया।
इस मौके पर मुन्नीलाल दास, धर्मेन्द्र दास, विन्धाचल दास, गिरीश दास, नंदलाल दास, प्रधान रामबचन यादव, हरिनाथ मौर्या, जवाहर मद्धेशिया, दिवाकर वर्मा, राधेश्याम चौधरी, अनिल वर्मा, मनोज निर्मल, संदीप सिंह पिन्टू, राजकुमार मास्टर, हरेन्द्र राम, भोला राम, अशोक विश्वकर्मा, उमेश विश्वकर्मा, ओमप्रकाश मौर्य, रमाशंकर मौर्य, चन्दन मद्धेशिया, रमेश मौर्य, अशोक मौर्य, उमा मौर्य, लल्लन पासवान, मुन्ना यादव, रामअवतार यादव, उमेश चौहान, भानू सिहं, शशीकांत विश्वकर्मा, आनंद कुमार, भीम मौर्या आदि लोग मौजूद रहे।