ग़ाज़ीपुर- ग्राम प्रधानों/सचिवो का एक दिवसीय क्षमतावृद्धि प्रशिक्षण जिला स्वच्छता समिति के तत्वाधान मे हुआ सम्पन्न

प्रखर ब्यूरो ग़ाज़ीपुर। स्वच्छ भारत मिशन(ग्रामीण) के अन्तर्गत ग्राम प्रधानों/सचिवो की एक दिवसीय क्षमतावृद्धि प्रशिक्षण जिला स्वच्छता समिति के तत्वाधान मे गुरुवार को रॉयल पैलेस बंशीबाजार मेें सम्पन्न हुआ। इस कार्यक्रम के मुख्य अतिथि के रूप में उपस्थित जिलाधिकारी ओम प्रकाश आर्य ने महात्मा गांधी के चित्र पर माल्यार्पण एंव दीप प्रज्ज्वलित कर कार्यशाला का शुभारम्भ किया। इस अवसर पर जिलाधिकारी ने अपने सम्बोधन मे कहा कि ग्राम मे स्वच्छ भारत मिशन के अन्तर्गत शौचालयों का निर्माण कराया जा रहा है। जिसे 31 मार्च तक प्रत्येक दशा मे शत प्रतिशत पूर्ति करना है। इसके अतिरिक्त ग्रामो मे प्राथमिक एवं उच्च प्राथमिक विद्यालयों का स्तर सुधारने हेतु कायाकल्प योजना के अन्तर्गत स्कूलों मे कार्य कराया जा रहा है। उन्होने ग्राम प्रधानों का आहवान किया कि वे अपने ग्राम पंचायतों मे स्थापित विद्यालयों मे सभी बुनियादी सुविधाओं की उपलव्धता सुनिश्चित कराये, जिससे बच्चों को अच्छे माहौल मे पढने का सुअवसर प्राप्त हो सके। स्कूलों मे बच्चों को स्कूली ड्रेस वितरण मे गुणवत्ता का विशेष ध्यान देने को कहा। ग्रामो मे बाल विकास परियोजनाओं के माध्यम से बच्चों को पौष्टिक आहार दिया जा रहा है, जिससे बच्चे स्वस्थ हो। सरकार की योजनाओं का लाभ प्रदान करने हेतु ग्रामों मे ग्राम प्रधान की अहम भूमिका होती है। इस लिए इसमे ग्राम प्रधान अपने ग्रामो मे समस्त योजनाओं को क्रियान्वित कराने मे अपना सहयोग दें, जिससे उनके ग्रामो का समुचित विकास हो। जिस प्रकार आयुष्मान योजना के अन्तर्गत गोल्डेन कार्ड बनाने मे ग्राम स्तरीय जनप्रतिनिधि ने सहयोग किया है। इसी प्रकार शौचालय एवं सामुदायिक शौचालयों के निर्माण मे भी अपना सहयोग प्रदान करें। ग्रामो मे भूमि विवाद, अतिक्रमण, चकरोड, या अन्य छोटे- मोटे मामलों को ग्रामो के जनप्रतिनिधि भी चाहें तो इसमे अच्छा कार्य किया जा सकता है, जिससे समाज मे भी जनप्रतिनिधियों को सम्मान मिलेगा। प्रधानमंत्री एवं मुख्यमंत्री की प्राथमिकताओं के योजनाओं मे खुले मे शौचमुक्त जनपद को बनाये जाने का लक्ष्य है, परन्तु इसमे कुछ जगहो पर अपेक्षित प्रगति की आवश्यकता है। बहु बेटियों के मान सम्मान की रक्षा के लिए यह कार्यक्रम शुरू कराया गया है। इसमे सभी लोगो को मिलकर सहयोग करने की आवश्यकता है। हमे अपने अंदर संवेदनशीलता लानी होगी तभी हम अपने बहन बेटियों की मान सम्मान की रक्षा कर सकेगे। जनपद मे मार्च के अन्त तक सभी अपूर्ण शौचालयों का निर्माण कराया जाना है समय कम है, परन्तु मन मे दृढ इच्छा शक्ति हो तो कोई कार्य मुश्किल नही है। उन्होने कहा कि गांवों मे पारिवारिक कलह या कारणों से ग्रामो मे किसी के पास स्थान नही मिलता है तो इस हेतु सरकार ने ग्राम सभाओं मे सामुदायिक शौचालयों के निर्माण का निर्णय लिया है, जिसे मार्च के अन्त तक पूर्ण करना है। पुलिस अधीक्षक ओम प्रकाश सिंह ने अपने सम्बोधन में कहा कि पुलिस प्रशासन सुरक्षा के दृष्टिगत पूरी तरह से मुस्तैद है। प्रधानगण अपने-अपने ग्रामो में किसी भी अप्रिय घटना या विवाद होने की सूचना पूर्व मे ही आकर स्वयं सम्पर्क कर मुझे अवगत करा सकते है, जिससे ग्रामो में होने वाली घटनाओ को समय से रोका जा सके। उन्होने कहा कि कभी -कभी छोटी -छोटी विवाद बड़ी घटनाओ का रूप ले लेती है। यदि इसको प्राथमिक स्तर पर ही निपटारा कर लिया जाय तो बड़ी घटना होने से बचा जा सकता है, जिसमें आपका सहयोग अपेक्षित है। इसके पूर्व मुख्य विकास अधिकारी, जिला पंचायत राज अधिकारी, बेसिक शिक्षा अधिकारी, परियोजना निदेशक, एवं डीएफओ ने भी अपने-अपने विभाग की योजनाओं आदि के बारे मे विस्तार से जानकारी दी एवं प्रधानगणो से सहयोग की अपील की। इस कार्यक्रम का संचालन जिला पंचायत राज अधिकारी अनिल कुमार सिंह ने किया।