ग़ाज़ीपुर- मां कष्टहरणी धाम का कपाट 25 मार्च से 3 अप्रैल तक रहेगा बन्द

– नवरात्र में मां कष्टहरणी धाम में दर्शन पूजन बन्द रहेगा

– रामनवमी के दिन लगने वाले मेले का आयोजन इस बार नहीं होगा

– मंदिर कमेटी ने सर्व सम्मति से जनहित में लिया यह निर्णय

प्रखर ब्यूरो गाजीपुर। जनपद के मुहम्मदाबाद तहसील क्षेत्र के करीमुद्दीनपुर में स्थित मां कष्टहरणी धाम में आज शनिवार को एक आवश्यक बैठक आयोजित की गयी। इस बैठक में कोरोना वायरस से बचाव के लिए श्रद्धालुओं भक्तो के स्वास्थ्य को लेकर सर्व सम्मति से यह निर्णय लिया गया की वासनिक नवरात्र में 25 मार्च से 3 अप्रैल तक मां कष्टहरणी धाम का कपाट बन्द रहेगा। नवरात्र के मद्देनजर यहां लगने वाली दुकानें नहीं लगेगी और रामनवमी का मेला भी आयोजित नहीं किया जायेगा। ईक्यावन शक्ति पीठ में एक प्रमुख पीठ है मां कष्टहरणी धाम। नवरात्र में लाखों लोग यहां दर्शन पूजन के लिए आते है। पूरे भारत में सबसे ज्यादा अखण्ड दीपक यहीं पर मां के चरणों में जलाये जाते है। यहां उमडने वाले श्रद्धालुओं की भारी भींड को ध्यान में रख कर यह निर्णय सभी की सुरक्षाहित में लिया गया है। मां की पूजा, भोग, आरती, शयन आरती पुजारी जी एवं उनके सहयोगी के द्वारा बिल्कुल अकेले की जायेगी।
इस बैठक में मंदिर कार्यकारिणी के ओंकार नाथ राय, राजेश राय प्रधान प्रतिनिधि करीमुद्दीनपुर, सुनील कुमार राय, गोपाल राय, राजकुमार पाण्डेय, किशुनदेव उपाध्याय, महेश्वर पाण्डेय, देवेन्द्र राय, बृहद राय, पुजारी हरिद्वार पाण्डेय आदि अन्य लोग उपस्थित रहे।