वाराणसी के भदवा मे कोरोना संदिग्ध मरीज, दो दिन पहले दुबई से आया है, इलाके में हड़कंप

मां ने मना किया जांच कराने से, प्रधान ने लगाई प्रशासन से गुहार

स्वास्थ्य विभाग और चोलापुर पुलिस ने पल्ला झाडा

प्रखर दानगज वाराणसी।कोरोना को लेकर जहा पुरे देश मे मे दहशत है सलकार बचाव के लिए प्रचार प्रसार कर रही है ईलाज की सारी सुविधाएं उपलब्ध करा रही है वही चोलापुर के भदवा गाव मे दो दिन पूवॅ मुम्बई से आया संदिग्ध कोरोना का मरीज मनीष नाविक पुत्र दुलार नाविक को लेकर पुरे गाव मे दहशत व्यात है। प्रधानपति के अनुसार पिछले दो दिन से हर जगह गुहार लगाई लेकिन अभी तक मरीज घर पर ही है। मरीज की मा ने उसे डाक्टर के यहा कोरोना की जाच से मना कर दिया। मा ने कहा है की कल उसके पति मुम्बई से आयेगे तब डाक्टर को दिखाऊगी। घर पर युवक की मा और दो बहने है। वही गाव मे पूरी तरह दहशत का माहौल है। वही भदवा प्रधानपति अरविन्द चौबे के अनुसार दो दिन पूर्व मनीष मुम्बई से बिमारी की हालात मे घर आया, तबियत खराब होने की जानकारी पडोसियों के माध्यम से मिली। तो रात मे ही कोलोना हेल्प लाइन पर फोन किया गया। बताया जाता है कि चालापुर चिकिल्लधिकारी डा आर बी सिह और चौकी प्रभारी दानगज को दी तो दोनो ने अपनी जिम्मेदारी से पल्ला काटते हुए कहा मरीज लेकर दीन दयाल ले जाये। लेकिन इतने के बाद भी एम्बुलेंस तक नही दिया गया, जबकि युवक की मा उसे ले जाने नही दे रही। कोरोना कट्रोल रूम से बात करने पर मरीज लाने को कहा गया कि चोलापुर चिकित्साधिकारी डा आरबी यादव के अनुसार सग्धित कोरोना मरीज की जानकारी प्रधानपति भदवा से मिली है। लेकिन कोरोना मरीज को क्षेत्रीय पुलिस लेकर आयेगी, वही चौकी प्रभारी दानगज अजय यादव ने कहा की एम्बुलेंस यदि स्वास्थ्य विभाग भेजेगा और पुलिस की माग होगी तो पुलिस साथ मे रहेगी लेकिन पुलिस 112 के वाहन से बिना डॉक्टर के लेकर नही जायेगी । बतादे कि यही जबाब कोरोना कट्रोल रूम प्रभारी ने भी दी । वहीं इस मामले में कुछ ग्रामीणों का कहना है कि उसे टाइफाइड हुआ था, जिसका इलाज चल रहा है। उसे कोरोना कि कोई शिकायत नहीं है। सूत्रों का कहना है कि लोगों द्वारा व्हाट्सएप ग्रुप में अफवाह फैला कर ऐसा किया गया है। साथ ही यह भी बताया जा रहा है कि दानगंज चौकी इंचार्ज भी मौके पर पहुंच कर जांच पड़ताल किए थे और चले गए। साथ ही लोगों का कहना है कि जांच पड़ताल के लिए स्वास्थ्य विभाग की टीम भी आने वाली है, तो पता चल जाएगा कि क्या मामला है।