वाराणसी में कोरोना से पहली मौत, प्रदेश में हुई कुल 3 मौतें

प्रखर वाराणसी। गंगापुर के रहने वाले55 वर्ष के दुकानदार 15 मार्च को कोलकाता से लौटे थे । 27 मार्च को इन्हें जुकाम आदि हुआ। इन्होंने 2 जगह प्राइवेट इलाज कराया । 2 अप्रैल को प्राइवेट डॉक्टर ने BHU दिखाने को कहा। वहाँ उन्हें सीधे ICU भेजा गया।  3 अप्रैल को इनकी मृत्यु हो गई। इनके पूर्व से डियाबेटिस थी। BP, डायबिटीज का इलाज कई साल से चल रहा था। BHU में इनका ब्लड प्रेशर भी ज्यादा रहा। इलाज जो ICU का होता है वो पूरा दिया गया। इनकी पास्ट हिस्ट्री की डिटेल से aur जानकारी हो पाएगी।  इनका सैंपल BHU के द्वारा लिया गया। सैंपल ठीक नही आया तो दोबारा लिया।  4 अप्रैल को मृत्यु के बाद सैंपल पॉजिटिव आया। इनके घर में 10 लोग हैं। गंगापुर में इनका वार्ड और अन्य एरिया सील किया जा रहा है । घर के 2 लोग BHU से डेड बॉडी ले कर दाह संस्कार करेंगे। कोरोना संक्रमण की सबसे ज्यादा संभावना बुज़ुर्ग, BP और डायबिटीज के मरीजो में होती है !!