क्षेत्र की खामियां होने के डर से मीडिया कवरेज पर लगा दी रोक

मीडिया पर गुस्साए रौनाही थानाध्यक्ष ने कहा कि ऐसी कार्रवाई करूंगा तो सीएम भी नहीं बचा पाएंगे

प्रधानमंत्री एवं मुख्यमंत्री के आदेशों की धज्जियां उड़ा रहे रौनाही थानाध्यक्ष

प्रखर अयोध्या(तनवीर अहमद सिद्दीकी) । उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री ने जहां लाकडाउन में घर से बाहर निकले पर पाबंदी लगाई है तो वहीं मीडिया का सहयोग भी मांगा है। उन्होने यह भी कहा था कि प्रदेश में होने वाली हर प्रकार की जानकारी हमें मीडिया के माध्यम से ही मिल पाती है इसलिए हर कोई मीडिया के लोगों का पूरा सहयोग करेें। लेकिन जनपद अयोध्या के रौनाही थानाध्यक्ष दीपेंद्र सिंह अपनी वर्दी की हनक के आगे किसी के दिशा निर्देश को नहीं मानते हैं। बतातें चले कि बीते शनिवार को मान्यता प्राप्त पत्रकार तनवीर अहमद सिद्दीकी रौनाही थाना क्षे़त्र में लोगों का जामाउड़ा लागे हाने की सूचना पर कवरेज करने गए। उनके क्षे़त्र में लोगों के जामाउड़ लगे होने से रौनाही थानाध्यक्ष दीपेंद्र सिंह लापरवाही उजागर होने के डर से गुस्सए थानाध्यक्ष ने सिद्दीकी को बुलाया। जिस पर पत्रकार ने अपने वाहन के सभी कागज दिखाए व अपना मान्यता प्राप्त पत्रकार का कार्ड भी दिखाया। इस पर दीपेंद्र सिंह ने कहा अगर तुमने मेरे थानाक्षेत्र के खिलाफ कोई भी न्यूज चलाई तो आप को जेल भेजने की धमकी देते हुए सिद्दीकी की गाड़ी का फर्जी तरह से चालान काट दिया। और कहा कि अगर तुमने मेरे खिलाफ कोई शिकायत कि तो आप को प्रदेश मुख्यमंत्री भी नहीं बचा पाएंगे। इस महामारी बीमारी कोरोना वायरस से लड़ने के लिए पत्रकार भी अपनी जान जोखिम में डाल कर रहे है। दीपेंद्र सिंह ने कई दिनों से पत्रकार तनवीर अहमद सिद्दीकी को समाचार पत्र संकलन करने नही दिया दिया जा रहा था थानाध्यक्ष द्वारा जो भी व्यक्ति चाहे वो किसी जरूरत की सामग्री लेने के लिए आवागमन करतें है उसको भी मारते व पीटते है और चालान कर देते है तथा गाड़ी को सीज कर देते हैं यहां तक थानाध्यक्ष अपना सीयूजी नंबर 09454403311 लगातार कई दिनों से स्विच ऑफ किये हुए है उनके पास व्हाट्सएप्प या टेक्सट मैसेज भेजने के बाद भी कोई संज्ञान नही लेते है जिसकी शिकायत सिद्दीकी ने मंडल आयुक्त, अयोध्या, जिलाधिकारी अयोध्या, उप जिलाधिकारी सोहावल और तमाम आला अधिकारी को ट्वीट करके अवगत कराया था।