केराकत सामुदायिक केंद्र पर कोरोना संदिग्ध मरीज मिलने से सनसनी

प्रखर केराकत जौनपुर। देश मे लॉक डाउन के चलते दिल्ली ,मुम्बई जैसे महानगरों से लोगो का पलायन जारी है। ऐसा ही एक मामला प्रकाश में आया है जो सामुदायिक स्वस्थ्य केंद्र केराकत पर एक संदिग्ध पेशेंट के पहुचते की खबर से क्षेत्र में आग की तरह फैल गयी।जिसकी चर्चा क्षेत्र में होने लगी।जानकारी के अनुसार मनीष यादव पुत्र रामाश्रय यादव निवासी अतहरपार थाना चन्दवक जोकि मुम्बई रहता था।एक ट्रक में सवार होकर चन्दवक पहुचा जहाँ ट्रक चालक से भुख लगने की बात कह कर चन्दवक बाजार में चना लेने के लिए उतरा।मनीष के ट्रक से उतरते ही ट्रक चालक फरार हो गया।मनीष के अनुसार उस ट्रक में 4 से 5 लोगों के होने की बात बताई।किसी बाइक सवार से मदद मांग कर मनीष किसी तरह केराकत पहुचा जहाँ बाइकसवार उसे सामुदायिक स्वास्थय केंद्र केराकत के गेट पर ही छोड़ कर चला गया।केंद्र के डॉक्टरों व स्टाफ ने बड़ी ही बहादुरी से उसकी जांच की तो पाया उसे सांस लेने में काफी दिक्कतें हो रहीं थी व बेहोश भी हो रहा था।प्राथमिक इलाज बड़ी सावधानी व सूझबूझ से करने में डॉक्टर आला प्रसाद,फार्मासिस्ट अशोक त्रिपाठी व महेंद्र राय रहें।प्राथमिक उपचार के तुरन्त बाद उसे जिला रेफर किया गया।सी एच सी अधीक्षक राजेश कुमार द्वारा मनीष का प्राथमिक उपचार करने वाली टीम को 14 दिन के लिए कवरेंटाइन किया।व सामुदायिक केंद्र को पहले सील कर पूर्ण रूप सेनिटाइज कराया गया