परिवार के चार सदस्यों को‌ पाजीटीव मिलने पर गांव में मचा हड़कम्प

प्रखर केराकत जौनपुर। क्षेत्र के डोभी ब्लाक के मंदूपुर गांव में‌‌ एक‌ ही परिवार के चार सदस्यों‌ को कोरोना पाजीटीव पाए जाने पर गांव में‌ हड़कम्प मच गया। यह लोग परिवार के एक सदस्य के सम्पर्क में आने से हुआ जो हाल में मुम्बई से आए थे। वहीं केराकत में दो अलग अलग गांवो में कोरोना पॉजिटिव के मरीज पाए गए।
दस दिन पूर्व विरेन्द्र बहादुर हवाई जहाज से अपने घर मंदूपुर आए थे, और क्वारंटीन न होकर सबके परिजन सहित अन्य गांव वालों के सम्पर्क में भी‌ आ गये थे, यहां तक की गांव में पार्टी भी हुई थी‌ जिसमें यह शामिल हुए। कुछ दिन बाद तबियत खराब होने पर जब इन्होंने अपनी‌ जांच कराई तो वह कोरोना पाजीटीव पाए गये। पाजीटीव आने पर वह आइसोलेट हो गये, रिस्क के कारण जब परिवार के अन्य सदस्यों की‌ जांच हुई तो उनके घर के छोटे भाई तेजबहादुर की पत्नी मीरा देवी, उनकी भतीजी‌ कीर्ती सिंह, संस्कृति सिंह व कल्पना सिंह भी पाजीटीव निकली। पाजीटीव आने पर जहां सबके पैरों तले जमीन सरक गयी, वहीं गांव में‌ खलबली मच गयी।
वहीं तरांव गांव की पान कुमारी का पुत्र जालन्धर से आया था। वह भी कोरोना पाजीटीव पाया गया जो एक सप्ताह पूर्व उसे आइसोलेट किया गया था। हाई रिस्क के कारण जब परिजनों की‌ जांच हुई तो दिनेश की मां पान कुमारी भी कोरोना पाजीटीव पायी गयी।केराकत क्षेत्र के डेहरी गांव के 46 वर्षीय व्यक्ति दुर्घटना में घायल अपने शाली को देखने दिल्ली गया हुआ था जहाँ से आने के बाद जांच में पॉजिटिव पाया गया। थानागद्दी क्षेत्र के बेहड़ा के पुरवा मसौढा का 26 वर्षीय युवक क्षय रोग से ग्रसित होने पर इलाज के दिल्ली गया हुआ था जंहा लॉक डाउन में फंसा रह गया।कुछ दिनों बाद बस के द्वारा घर लौटने पर क्षय रोग की दवा और जांच के लिए बीएचयू वाराणसी गया था जहां चिकित्सकों द्वारा कोरोना का जांच करवाया गया।जिसकी रिपोर्ट पॉजिटिव आ गया है। दोनो मरीज पॉजिटिव की सूचना मिलने के बाद अब एम्बुलेंस का इंतजार कर रहे है।