मुनादी के बाद भी कोर्ट में पेश नहीं हुए आजम खान

– बेटे अब्दुल्ला के दो-दो जन्म प्रमाण पत्र का मामला

– 12 किसानों की जमीन भी लौटाने का हो चुका है आदेश

प्रखर लखनऊ। समाजवादी पार्टी से सांसद और कद्दावर नेता आजम खान के खिलाफ उनके बेटे अब्दुल्ला खान के दो-दो जन्म प्रमाण पत्र के आरोप में कोर्ट ने सुनवाई करते हुए उन्हें हाजिर होने का आदेश दिया था । लेकिन तमाम आदेशों को दरकिनार करते हुए आजम खान कोर्ट के सामने नहीं आए । उसके बाद जिला प्रशासन ने रामपुर में मुनादी कराकर आजम खान को अदालत में पहुंचे का आदेश सुनाया लेकिन इसके बाद भी आजम खान नहीं पहुंचे।
बतादें कि अदालत ने इस मामले में अब 11 फरवरी की तारीख दी है। इसके साथ ही कोर्ट ने पुलिस से रिपोर्ट भी मंगाई है। बता दें रामपुर के एडीजे-6 की कोर्ट में अब्दुल्ला आज़म के खिलाफ दो जन्म प्रमाणपत्र का मामला चल रहा है। इस मामले में आज़म खान, उनकी पत्नी तजीन फातमा और बेटे के नाम रामपुर में मुनादी भी हो चुकी है। इनको 24 जनवरी को कोर्ट में पेश होना था लेकिन आजम खान का कुनबा कोर्ट में पेश नहीं हुए
सरकारी वकील राम औतार सैनी ने कहा कि कोर्ट ने 82 की कार्यवाही की थी, जिसके बाद आज 24 जनवरी को कोर्ट में आज़म खां को पेश होना था लेकिन आजम नहीं पहुंचे । बता दें कि आजम खान के खिलाफ 82 के तहत कार्यवाही की गई है इसमें एक महीने तक अभियुक्त न्यायालय में हाज़िर हो सकता है।
82 की नोटिस 9 जनवरी को गया था इसलिए 9 फरवरी को एक माह की मियाद पूरी होगी।इसे देखते हुए अब कोर्ट ने 11 फरवरी की तारीख दी है। बता दें कि इसी मामले के चलते आजम खां के पुत्र अब्दुल्लाह आजम की विधायकी भी चली गई है। वहीं इस मामले को बार-बार आजम खान ने राजनीतिक करार देते हुए खारिज करने का काम किया था। लेकिन योगी सरकार इस मामले को लेकर लगातार सक्रिय है । बता दें कि आजम खान के जौहर अली विश्वविद्यालय में भी तमाम अनियमितताओं पर लगातार कार्यवाही चल रही है।