बीजेपी ने अपने 11 नए जिलाध्यक्ष घोषित किये, चंदौली में अभिमन्यु

– पूर्वांचल में चंदौली जिला अध्यक्ष को लेकर चल रही थी जद्दोजहद
– गाजीपुर में जिलाध्यक्ष से नाराज हैं कुछ कार्यकर्ता
प्रखर वाराणसी । भारतीय जनता पार्टी ने उत्तर प्रदेश की कमान एक बार फिर स्वतंत्र देव सिंह के हाथ में सौंपी है। दोबारा पार्टी अध्यक्ष बनाए जाने के बाद स्वतंत्र देव सिंह लगातार पार्टी संगठन में ऐसे लोगों को तरजीह दे रहे हैं। जिनकी जमीनी पकड़ मजबूत है लेकिन उनकी लिस्ट में कुछ नामों पर भारतीय जनता पार्टी का आम कार्यकर्ता विरोध भी कर रहा है। भारतीय जनता पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष स्वतंत्र देव सिंह ने उत्तर प्रदेश में 11 जिलों के बीजेपी जिलाध्यक्षों के नामों की घोषणा की है। जिनमें मुरादाबाद जिले की जिम्मेदारी राजपाल सिंह चौहान को सौंपी है। अलीगढ़ की जिम्मेदारी विवेक सारस्वत को मिली है।
बांदा में  जिलाध्यक्ष की जिम्मेदारी रामकेश निषाद को दी गयी  है, वहीं झांसी जिले की जिम्मेदारी जमुना कुशवाहा को दी गई है। ललितपुर की कमान जगदीश लोधी को दी गई है, वहीं फतेहपुर में आशीष मिश्रा जिलाध्यक्ष बने हैं। अयोध्या का जिलाध्यक्ष संजीव सिंह को बनाया गया है, सुल्तानपुर की जिम्मेदारी आरए वर्मा को दी गई है। प्रतापगढ़ का जिलाध्यक्ष हरिओम मिश्रा को बनाया गया है। अमेठी के जिलाध्यक्ष दुर्गेश त्रिपाठी बनाए गए हैं, वहीं अभिमन्यु सिंह को चंदौली का जिलाध्यक्ष बनाया गया है। बता दें कि पूर्वांचल के चंदौली में जिलाध्यक्ष को लेकर दो बड़े नेताओं में बड़ी रस्साकशी चल रही थी । क्योंकि इसके पहले डॉ महेंद्र नाथ पांडे प्रदेश अध्यक्ष थे लिहाजा अपने संसदीय क्षेत्र में वह अपने पसंद का जिलाध्यक्ष का चाहते थे अब वहां अभिमन्यु सिंह को मौका जिम्मेदारी दी गयी है। माना जा रहा है कि आने वाले दिनों में बीजेपी में कई और चेहरे अलग-अलग दायित्वों पर दिख सकते हैं।