कर्मचारी भविष्य निधि की पेंशन  5 गुना बढ़ाने पर सरकार कर रही है विचार!

– 1 फरवरी को बजट में हो सकती है घोषणा
– इनकम टैक्स मैप सरकार दे सकती है भारी छूट
प्रखर वाराणसी । वित्त मंत्रालय के सूत्रों के हवाले से खबर आ रही है कि एक फरवरी शनिवार को  आम बजट  पेश करने के दौरान वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण देश के मजदूरों और  मध्यम वर्ग के परिवारों को बजट में बड़ा तोहफा सौंप सकती हैं। मिल रही जानकारी के अनुसार कर्मचारी भविष्य निधि संगठन (ईपीएफओ) की एम्‍प्‍लॉय पेंशन स्‍कीम (ईपीएस) के दायरे में आने वाले कर्मचारियों को बजट 2020  में बड़ी खबर मिलने जा रही है जिसमें ईपीएस के तहत मिलने वाली पेंशन 5 गुना तक बढ़ सकती है। विशेषज्ञों का मानना है कि इसके साथ ही अटल पेंशन योजना (एपीवाई) का दायरा बढ़ाने और न्‍‍‍‍यू पेंशन स्‍कीम (एनपीएस) में अतिरिक्त कर छूट की घोषणा भी की जा सकती है। गौरतलब है कि श्रमिक संगठन इसकी मांग लगातार उठा रहे हैं । श्रमिक संगठनों का कहना है कि जब असंगठित क्षेत्र के कर्मचारियों और व्यापारियों को 3000 प्रति माह पेंशन देने की योजना सरकार बना सकती है तो फिर असंगठित क्षेत्र के मजदूरों के लिए इतनी कम पेंशन क्यों! जानकारी के अनुसार श्रमिक संगठनों द्वारा मोदी सरकार को 1000 के बदले ₹5000 पेंशन करने का प्रस्ताव भेजा गया है। श्रमिक संगठनों को उम्मीद है कि मोदी सरकार इस बजट में इस पर प्रस्ताव पास कर सकती है। वहीं कर्मचारियों के पेंशन के लिए लगातार संघर्ष कर रही समिति ने न्यूनतम पेंशन 7500 करने का प्रस्ताव केंद्र सरकार के पास भेजा है। ऐसे में माना जा रहा है कि केंद्र सरकार इस बजट में कर्मचारी भविष्य निधि योजना के तहत दी जाने वाली पेंशन 5 गुना तक बढ़ा सकती है। जिससे संगठित क्षेत्र के लाखों मजदूरों को फायदा मिलने का अनुमान है।