पारिवारिक वजहों से वकील ने कचहरी परिसर में कूदकर दी जान

प्रखर वाराणसी। जिलाधिकारी कार्यालय के ठीक बगल में नवनिर्मित न्यायालय परिसर के भवन से कूदकर युवा अधिवक्ता ने की खुदखुशी। प्राप्त जानकारी के अनुसार प्रशांत सिंह पारिवारिक वजहों से लगातार परेशान चल रहे थे। कचहरी परिसर में स्थित सीसीटीवी कैमरे में दिख रहा है कि सुबह करीब 8:30 बजे प्रशांत सिंह परिसर में आते हैं और सबसे ऊंची बिल्डिंग की ओर देखकर उसके ऊपरी मंजिल से छलांग लगा देते हैं। हालांकि उस समय परिसर पूरा खाली था। साथ काम करने वाले अधिवक्ताओं का कहना है कि प्रशांत सिंह सुबह बच्चों को स्कूल छोड़ कर सीधे कचहरी परिसर चले आए रात में पत्नी से कुछ विवाद के कारण तनाव में थे। जानकारी के मुताबिक प्रशांत वरिष्ठ अधिवक्ता रामउग्रह सिंह के जूनियर थे। प्रशांत का मूल निवास बहराइच बताया जा रहा है जबकि वाराणसी के सर सांवली में वह वरिष्ठ अधिवक्ता हरिशंकर सिंह के पड़ोसी थे इनका परिवार वर्षों पहले आकर वाराणसी में बस गया था। घटना की सूचना पाकर एसएसपी ,एसपी सिटी न्यायिक अधिकारी भी मौके पर पहुँचे। आनन फानन में शव को पोस्टमार्टम के लिए जिला अस्पताल भेज दिया गया। कचहरी परिसर में हुई इस घटना के बाद अधिवक्ताओं के बीच तरह-तरह की चर्चा चल रही है।