ग़ाज़ीपुर- कुपोषित बच्चों के मध्य दंपत्ति ने मनाई अपनी शादी की सत्रहवीं सालगिरह

प्रखर ब्यूरो ग़ाज़ीपुर। कुपोषित बच्चे को पोषित करने के उद्देश्य से स्वास्थ्य विभाग और विश्व स्वास्थ्य संगठन की मदद से जिला अस्पताल में पोषण पुनर्वास केंद्र चलाया जा रहा है। इस केंद्र पर कुपोषित बच्चों को लाने की जिम्मेदारी बाल विकास एवं पुष्टाहार विभाग की है। लेकिन आज दिन मंगलवार को एक दंपत्ति राजेश अग्रहरि और रूबी गुप्ता ने अपने शादी की 17वीं सालगिरह पोषण पुनर्वास केंद्र के बच्चों के बीच मनाया। सदर कोतवाली अंतर्गत मिश्रबाजार के रहने वाले राजेश अग्रहरी और रूबी गुप्ता जिनकी शादी साल 2013 में हुई थी। वैसे तो यह लोग प्रतिवर्ष अपने शादी की सालगिरह अपनों के बीच मनाया करते थे। लेकिन इस बार कुछ अलग करने के लिए जिला स्वस्थ भारत प्रेरक जितेंद्र कुमार गुप्ता ने प्रेरित किया और आज यह लोग इस केंद्र पर पहुंचकर केंद्र में भर्ती 7 बच्चों को पुष्टाहार व अन्य सामान जिसमें बिस्किट, शहद व बच्चों के प्रयोग में आने वाले सामान का वितरण कर अपनी खुशी का इजहार किया। इस मौके पर एसीएमओ डॉ. के.के. वर्मा और डॉ. प्रगति कुमार भी मौजूद रहे और उन्होंने इस पहल के लिए दंपत्ति को ढेर सारी बधाई दी और उन्होंने कहा कि अगर ऐसे ही लोग आगे आते रहे तो मुमकिन है कि कुपोषण को हम जल्द से जल्द खत्म कर पाएंगे।
इस कार्यक्रम के अवसर पर स्टाफ नर्स अंजना गुप्ता, डाइटिशियन गुंजा, मुख्य सेविका सदर तारा सिंह, आगनबाडी माया तिवारी के साथ में पोषण पुनर्वास केंद्र के अन्य कर्मचारी मौजूद रहे।