कोरोना से देश के पहले नौजवान की मौत, इसके पहले 5 बुजुर्गों की हो चुकी हैं मौत

पटना के एम्स में मरने वाले युवक की उम्र महज 38 साल

प्रखर बिहार। राजधानी पटना से कोरोना से जुड़ी एक बड़ी खबर सामने आई है। बिहार में भी घातक कोरोना वायरस ने दस्तक दे दिया है। इसके संक्रमण से जहां एक मरीज की मौत हो गई है, वहीं दूसरा शख्‍स पटना के एनएमसीएच के आइसोलेशन वार्ड में भर्ती है। बता दें कि पूरे देश में कोरोना से 5 लोगों की मौत बताई जा रही है, जिनमें उन पांचों की उम्र 60 के ऊपर है। छठवीं मौत के रूप में पटना में मरे शख्स की उम्र मात्र 38 साल बताई जा रही है। मरीज की मौत पटना के एम्स में हुई है। इस बात की पुष्टि पटना एम्‍स के निदेशक समेत बिहार के स्वास्थ्य विभाग के प्रधान सचिव संजय कुमार ने भी की है। बिहार में कोरोना से संदिग्ध मरीजों की संख्या लगातार बढ़ रही थी, लेकिन इस गंभीर बीमारी से मौत का यह पहला मामला सामने आया है। मृतक की पहचान सैफ अली के रूप में हुई है जो 38 साल का था। जानकारी के अनुसार सैफ मुंगेर के रहने वाले थे और कतर में काम करता था। वह एनएमसीएच में भर्ती दूसरे मरीज का नाम और उम्र बताने से अस्पताल प्रबंधन ने साफ तौर पर इंकार कर दिया है। मालूम हो कि पूरे देश में कोरोना का खौफ लगातार जारी है और देशभर में 300 से ज्यादा मरीज कोरोना के पीड़ित पाए गए हैं। शनिवार को ही हुई थी मौत
मृतक की रिपोर्ट शनिवार को ही पॉजिटिव आई थी, जिसके बाद देर शाम उसकी मौत हो गई। बिहार में कोरोना के संक्रमण के बाद मौत का यह पहला मामला सामने आया है। मालूम हो कि देश भर में इस बीमारी को लेकर लोग काफी भयभीत हैं, कोरोना को लेकर कई राज्यों में लॉक डाउन भी किया गया है। इस बीमारी से बचने के लिए ही रविवार को पूरे देश में जनता कर्फ्यू लागू है और लोग भी इसका समर्थन करते हुए अपने-अपने घरों में ही कैद हैं। बहरहाल, बिहार में कोरोना से हुई मौत की पहली घटना ने स्वास्थ्य विभाग के लिए परेशानियां पैदा कर दी हैं।