सुब्रमण्यम स्वामी ने एयर इंडिया बेचे जाने के खिलाफ कोर्ट जाने की धमकी दी

– मार्च 2020 तक एयर इंडिया बेचे जाने की प्रक्रिया होनी है पूरी

– सुब्रमण्यम स्वामी ने इसे बताया राष्ट्र विरोधी

प्रखर दिल्ली। मोदी सरकार द्वारा सार्वजनिक क्षेत्र की कई कंपनियों को बेचने की प्रक्रिया का विरोध करते हुए भारतीय जनता पार्टी के वरिष्ठ नेता और राज्य सभा सांसद सुब्रमण्यम स्वामी ने ट्वीट कर मोदी सरकार पर हल हमला किया है। गौरतलब है कि सरकार द्वारा एअर इंडिया की 100% हिस्सेदारी बेचे जाने का खुला विरोध किया है। स्वामी ने ट्वीट कर कहा कि एअर इंडिया को बेचना पूरी तरह राष्ट्रविरोधी काम है। स्वामी ने इस मुद्दे पर सरकार के खिलाफ कोर्ट जाने की भी धमकी दी है। नागरिक विमानन एवम उड्डयन मंत्रालय द्वारा जैसे ही यह ऐलान किया, स्वामी भड़क गए। उन्होंने ट्वीट करते हुए लिखा, ‘ये डील पूरी तरह राष्ट्रविरोधी है और मैं इसके खिलाफ कोर्ट जाने के लिए बाध्य हूं, हमलोग अपने परिवार के रत्न को नहीं बेच सकते हैं। बतादें कि एअर इंडिया लंबे समय से घाटे में चल रही है। 2018-19 में 8,556.35 करोड़ रुपए का घाटा (प्रोविजनल) हुआ और एयरलाइन पर 50,000 करोड़ रुपए से भी ज्यादा का कर्ज है। इसलिए सरकार एयर इंडिया को बेचना चाहती है। बता दें कि भारी कर्ज़ में दबी सरकारी एविएशन कंपनी एअर इंडिया में अपनी पूरी हिस्सेदारी बेचने के लिए सरकार ने बोलियां मंगाई हैं। इसकी आखिरी तारीख 17 मार्च 2020 है। इसके साथ ही, सरकार ने सब्सिडियरी कंपनी एअर इंडिया एक्सप्रेस और एयरपोर्ट सर्विस कंपनी एआईएसेटीएस को भी बेचने के लिए बोलियां आमंत्रित की है। बतादें कि एअर इंडिया को बेचने के लिए ग्रुप ऑफ मिनिस्टर की गृह मंत्री अमित शाह की अध्यक्षता वाले जीओएम की बैठक में ये फैसला किया गया है। बता दें कि सुब्रमण्यम स्वामी किसी भी सार्वजनिक उपक्रम की संपत्ति के 100% शेयर बेचे जाने के सरकार के फैसले को लगातार चुनौती देते रहे हैं । माना जा रहा है कि स्वामी के विरोध के बाद मोदी सरकार एक बार फिर विपक्ष के निशाने पर रहेगी है।