ग़ाज़ीपुर- सामाजिक संस्था के सहयोग से गरीब को मिला रोजगार

0
92

प्रखर ब्यूरो सेवराई/ग़ाज़ीपुर। सामाजिक संस्था एकेएस के सहयोग से एक गरीब को मिला रोजगार। लोगों को आत्मनिर्भर बनाने के लिए संस्था दे रही है मदद।
कहते हैं कि ‘डूबते को तिनके का सहारा” यह मुहावरा दिलदारनगर क्षेत्र के गरीब लोगों को आत्मनिर्भर बनाने का काम कर रही एकेएस संस्था पर सटीक बैठ रही है। आत्मनिर्भर कारोबार सहयोग नाम से लगभग 1 महीने पूर्व क्षेत्र के लोगों ने एक संगठन बनाया, जिसका मुख्य उद्देश्य जरूरतमंद लोगों को छोटे छोटे ब्यापार से जोड़ना है। क्योंकि देश के हालात और मोदी जी के आत्मनिर्भर नारा को देखते हुए संगठन के सदस्यों ने ये बीड़ा उठाया है कि अब लोगों को सरकारी नौकरी मिलना मुश्किल हो रहा है क्योंकि सबकुछ प्राइवेट के हाथों में जा रहा है। नोटबन्दी और कोरोना महामारी से नौकरी जाने के बाद दिहाड़ी मजदूर रोज कमाने खाने वाले लोग काफी परेशान है। उनको सहारा देने के उद्देश्य से संस्था के लोगों ने मंगलवार को दिलदारनगर के रमवल ग्राम निवासी गुड्डू को चाय की दुकान खोलवा कर उदघाटन किया। आगे भी इस तरह के जो भी जरूरतमंद लोग हैं संस्था के लोगों से मिलकर लाभ ले सकते हैं। महिलाओं को भी ब्यापार के लिये सपोर्ट करेगी संस्था। इस संस्था से अब तक कमसार से सैकड़ों लोग जुड़ चुके हैं, जो हर महीने संस्था को 100 रुपये की मदद करते हैं और उसी पैसे से लोगों को मदद किया जाता है। संस्था के प्रवक्ता तौक़ीर खान ने बताया कि आगे भी इस तरह के लोगों को परस्पर सहयोग किया जायेगा। जो भी जरूरतमंद लोग हैं संस्था के लोगों से मिलकर अपनी जरूरियात को बता सकते हैं। ये एकेएस ग्रुप सिर्फ रोजगार आत्मनिर्भर बनाने के लिये ही लोगो को सपोर्ट करेगी। संस्था के सरपरस्त डॉ. सलाहुद्दीन खान ने इस संस्था से जुड़े हुए लोग हैं जो जहां से मदद कर रहा है उनसब लोगों का धन्यबाद किया।
इस मौके पर डॉ. सलाहुद्दीन खान, अबरार खान, मंजूर खान, मेराज खान, अरशद खान, इमरान, तौक़ीर खान, अकबर खान, जमाल खान मिट्ठू, अनीस खान, अबरार खान, इमरान खान सरैलावी, भोलू खान आदि सहित सैकड़ो लोग मौजूद थे।