बीजेपी सांसद की पत्नी ने टीएमसी की ज्वॉइन, नाराज सांसद ने तलाक देने की कही बात

बीजेपी सांसद सौमित्र खान की पत्नी सुजाता मंडल खान सोमवार को टीएमसी में शामिल हो गई

प्रखर कोलकाता/डेस्क। सत्तारूढ़ तृणमूल कांग्रेस में तोड़फोड़ के बाद अब बीजेपी के घर भी सर्जिकल स्ट्राइक हो गई है। बीजेपी सांसद सौमित्र खान की पत्नी सुजाता मंडल खान सोमवार को टीएमसी में शामिल हो गई हैं। सौमित्र, पश्चिम बंगाल की बिशुनपुर लोकसभा सीट से बीजेपी के टिकट पर सांसद हैं। उन्होंने पत्नी के टीएमसी में शामिल होने पर अनभिज्ञता जाहिर करते हुए कहा, श्मुझसे बातचीत के बगैर ही पत्नी ने यह फैसला लिया है।श् वहीं सुजाता ने कहा है कि घर के मामले घर में ही रहने चाहिए। इस दौरान टीएमसी सांसद सौगत रॉय और प्रवक्ता कुणाल घोष उनके साथ मौजूद रहे। बतादे कि कोलकाता में टीएमसी की सदस्यता लेते हुए सुजाता ने कहा, मुझे बीजेपी में कभी सम्मान नहीं मिला। अगर बात पॉपुलैरिटी की आए, तो ममता बनर्जी क कोई मुकाबला नहीं है। पश्चिम बंगाल के बीजेपी अध्यक्ष दिलीप घोष और सौमित्र खान के बीच बीते दिनों कुछ अनबन भी हुई थी। सोमवार सुबह ही चुनावी रणनीतिकार और पश्चिम बंगाल में टीएमसी के सहयोगी के रूप में लगे प्रशांत किशोर ने ट्वीट कर कहा, श्मीडिया ने बीजेपी को लेकर जरूरत से ज्यादा ही प्रचार प्रसार किया हुआ है। लेकिन वास्तविकता यह है कि पश्चिम बंगाल में बीजेपी को दहाई के आंकड़ा पार करने में ही संघर्ष करना पड़ेगा। गौरतलब है कि बीजेपी ने पश्चिम बंगाल में ममता बनर्जी को बड़ा झटका दिया। गृहमंत्री अमित शाह की मौजूदगी में ममता बनर्जी के करीबी मंत्री रहे सुवेंदु अधिकारी ने बीजेपी जॉइन कर ली। वह अपनी अगुवाई में कुल 10 विधायकों और एक सांसद को भी ले आए, जिनमें से 8 ज्डब् के हैं। सुजाता को तलाक का नोटिस भेजेंगे सौमित्र खान सुजाता मंडल के टीएमसी ज्वॉइन करने से उनके पति और बीजेपी सांसद सौमित्र खान नाराज हैं. उन्होंने सुजाता को तलाक का नोटिस भेजने की तैयारी की है. इसके साथ ही सुजाता के घर की सुरक्षा में लगे जवानों को भी हटा दिया गया है. बताया जा रहा है कि सौमित्र खान और सुजाता के बीच कई दिनों से अनबन चल रही थी. पर्दे के पीछे चल रही लड़ाई अब खुलकर सामने आ गई ह। पत्नी के बीजेपी में शामिल होने पर बीजेपी सांसद सौमित्र खान ने कहा कि यह सच है कि परिवार में मतभेद थे. हम परिवार हैं, लड़ाई हो सकती है, लेकिन इसे राजनीतिक रूप देना सही नहीं है. मुझे दुख है कि मेरे बीजेपी में शामिल होने के कारण उसने अपनी नौकरी खो दी. मुझे पीड़ा है कि सुजाता अपनी राजनीतिक महत्वाकांक्षाओं के लिए टीएमसी से जुड़ गई. भावुक हुए बीजेपी सांसद सौमित्र खान बीजेपी सांसद सौमित्र खान ने कहा कि आपने (सुजाता) अच्छा फैसला लिया होगा, लेकिन पार्टी महत्वपूर्ण है और मोदी हमारी जीत के लिए जिम्मेदार हैं. युवा मोर्चा को हमारी जरूरत है. बीजेपी कोई परिवारिक पार्टी नहीं है. आप भाजपा सांसद की पत्नी के रूप में सम्मानित थीं. आपने मुझे वोट दिलवाए हैं और मेरी जीत का हिस्सा हैं. टीएमसी परिवारों को तोड़ सकती है, लेकिन मैं अब उसे (सुजाता) अपने नाम और उपनाम से मुक्त करता हूं. बीजेपी की जीत में निभाई थी अहम भूमिका – सांसद सौमित्र खान की पत्नी सुजाता ने बीजेपी की जीत में एक महत्वपूर्ण भूमिका निभाई थी और उन्होंने बांकुरा में प्रचार किया था. दिलचस्प बात यह है कि पूरे चुनाव प्रचार के दौरान मौजूदा तृणमूल कांग्रेस सरकार ने सुजाता के बांकुरा इलाके में प्रवेश करने पर प्रतिबंध लगा दिया था।