ग़ाज़ीपुर- शुरू हुआ ‘टीबी हारेगा-देश जीतेगा’ अभियान

0
305

– तीन चरणों में वृहद स्तर पर चलेगा अभियान
– 25 जनवरी तक खोजे जाएंगे टीबी के छिपे मरीज

प्रखर ब्यूरो गाजीपुर। साल 2025 तक क्षय रोग को जड़ से खत्म करने के लिए राष्ट्रीय क्षय रोग उन्मूलन कार्यक्रम के अंतर्गत ‘टीबी हारेगा-देश जीतेगा’ एक्टिव केस फाइंडिंग (एसीएफ) अभियान शनिवार से शुरू किया जा चुका है। यह अभियान तीन चरणों में 25 जनवरी 2021 तक चलाया जाएगा जिसका प्रथम चरण शुरू से शुरू होकर 1 जनवरी तक चलेगा। इसके लिए जनपद में माइक्रो प्लान बना लिया गया है। इसी के तहत शनिवार को जनपद के महुआ बाग स्थित वृद्धा आश्रम और सैदपुर स्थित नारी निकेतन में अभियान की शुरुआत की गई जिसके तहत वृद्धा आश्रम से 4 लोगों का सैंपल लिया गया जबकि 30 लोगों की स्क्रीनिंग की गई। इसके साथ ही नारी निकेतन सैदपुर में 8 लोगों का सैंपल लिया गया।
जिला क्षय रोग अधिकारी डॉक्टर के.के. वर्मा ने बताया कि प्रथम चरण में चलने वाले कार्यक्रम के लिए माइक्रो प्लान बना लिया गया है। जिसके तहत 26 और 27 दिसंबर को वृद्धा आश्रम 28, 29 व 30 दिसंबर को जिला जेल, 31 दिसंबर को बाल सुधार गृह एवं 1 दिसंबर को जनपद के समस्त मदरसा एवं जवाहर नवोदय विद्यालय में इस कार्यक्रम को चलाया जाएगा। यह अभियान एक महीने तक तीन चरणों में चलेगा। अभियान में छिपे हुये टीबी के मरीजों को खोजा जाएगा। इसके साथ ही एचआइवी एवं डायबिटीज से ग्रसित व्यक्तियों की टीबी की जांच की जाएगी। निजी चिकित्सकों, निजी लैब एवं मेडिकल स्टोर में भी एसीएफ़ चलाया जाएगा तथा उन्हें टीबी संबंधित जानकारी भी दी जाएगी। उन्होंने बताया कि यह अभियान तीन चरणों में बांटा गया है। प्रथम चरण में 26 दिसम्बर से 01 जनवरी तक  दूसरे चरण में 02 जनवरी से 12 जनवरी तक जनपद के शहरी एवं ग्रामीण क्षेत्रों की मलिन एवं हाई रिस्क जनसंख्या में क्षय रोग के मरीजों को खोजने के लिए एसीएफ़ अभियान चलाया जाएगा, जिसमें जनपद की कुल आबादी के 20 प्रतिशत जनसंख्या की टीबी स्क्रीनिंग की जाएगी। तीसरे चरण में 13 जनवरी से 25 जनवरी तक जनपद के समस्त पंजीकृत निजी चिकित्सकों, निजी लैब व मेडीकल स्टोर से संपर्क स्थापित कर एसीएफ़ अभियान चलेगा और उन्हें क्षय रोगियों के नोटिफिकेशन करने के निर्देश दिए जाएंगे।