हैवान बना देवर अकेली भाभी से बनाना चाहता था अवैध संबंध, हवस पूरी नही हुई तो पत्थर से कूचकर कर दी हत्या

0
86


प्रखर बरेली। जिले के सुभाष नगर थाना क्षेत्र की शांति विहार कॉलोनी में पिछले महीने हुए विनीता हत्याकांड का खुलासा हो गया है। यह मामला पूरी तरह से अवैध संबंधों का निकला, जहां आरोपी शख्स ने देवर-भाभी के रिश्ते को कलंकित करने की कोशिश की। आरोपी ने अपने भाई के न होने का फायदा उठाना चाहा और घर में अकेली भाभी के साथ यौन संबंध बनाने की कोशिश की। महिला ने इनकार किया तो हवस में अंधे हो चुके देवर ने पत्थर से कूच-कूचकर अपनी भाभी की हत्या कर दी। हैरान करने वाली बात यह है कि इस वारदात के समय महिला की 6 साल की बेटी भी वहीं मौजूद थी, लेकिन आरोपी को इसका लिहाज भी न रहा। मासूम बच्ची ने ही पुलिस और अपने रिश्तेदारों को वहशी चाचा की करतूत बताई, जिसके बाद पुलिस की छानबीन में आरोपी पकड़ा गया। पुलिस गिरफ्त में आने के बाद आरोपी देवर ने जुर्म कबूल किया। उसने पुलिस के सामने कबूल किया कि अवैध संबंध बनाने से मना करने पर अपनी भाभी की पत्थर से कूच-कूच कर हत्या कर दी थी। पुलिस के मुताबिक वारदात के समय मृतक विनीता की 6 साल की मासूम बेटी ने अपने चाचा आकाश के बारे में बताया। बच्ची ने अपनी नानी और पुलिस को बताया कि आकाश ने ही उसकी मां की जान ली है। इसी आधार पर आरोपी को गिरफ्तार किया जा सका है। घटना के बाद विनीता के परिजनों ने उसके ससुरालवालों के खिलाफ हत्या का मुकदमा दर्ज कराया था। हालांकि वारदात के बाद हत्यारोपी आकाश मौके से फरार हो चुका था। पूछताछ के दौरान आरोपी आकाश सक्सेना ने भाभी विनीता की हत्या करने का जुर्म कुबूल किया। आरोपी का कहना है कि अगस्त महीने में जब उसका भाई नौकरी के सिलसिले में हरियाणा गया हुआ था. तब उसने अपनी भाभी को अकेले पाकर उसके साथ जबरन शारीरिक संबंध बनाने का प्रयास किया। विनीता ने इसका विरोध किया, तो आकाश को यह बात बुरी लग गई। प्रतिशोध में आकर आरोपी ने भाभी विनीता की पत्थर से कूच -कूचकर हत्या कर दी और भाग निकला। मामले में एसपी सिटी रविंद्र कुमार ने बताया कि बीते माह में शांति विहार कॉलोनी में एक महिला की हत्या हो गई थी। जिसके बाद परिजनों ने दहेज हत्या का आरोप लगाते हुए मुकदमा पंजीकृत कराया था। आज सुभाषनगर थाना पुलिस ने हत्याकांड का खुलासा करते हुए महिला के देवर आकाश को गिरफ्तार किया है। एसपी सिटी ने बताया कि आरोपी आकाश को जेल भेजा जा रहा है।