वाराणसी में बोले सुभासपा के अध्यक्ष ओपी राजभर, जिन्ना को अगर देश का पहला प्रधानमंत्री बना दिया गया होता तो देश का बंटवारा नहीं होता

प्रखर वाराणसी। सुहेलदेव भारतीय समाज पार्टी (सुभासपा) के राष्ट्रीय अध्यक्ष ओमप्रकाश राजभर ने बुधवार को कहा कि मोहम्मद अल्ली जिन्ना को अगर देश का पहला प्रधानमंत्री बना दिया गया होता तो देश का बंटवारा नहीं होता। उन्होंने यह भी कहा कि पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी और वरिष्ठ भाजपा नेता लालकृष्ण आडवाणी भी जिन्ना की तारीफ किया करते थे। इसलिए उनके विचारों को भी पढ़ना चाहिए। ओमप्रकाश राजभर बलिया से प्रयागराज जाते समय मीरापुर बसहीं में कार्यकर्ताओं से मिलने पहुंचे थे। वहीं मीडिया से अनौपचारिक बातचीत में राजभर ने कहा, जरा सोचिए अटल जी और आडवाणी जी भी जिन्ना के विचारों की प्रशंसा क्यों करते थे। इसीलिए मेरा मानना है कि जिन्ना को अगर देश का पहला प्रधानमंत्री बनाया गया होता तो देश का बंटवारा ही नहीं होता। उल्लेखनीय है कि हाल ही में सपा प्रमुख अखिलेश यादव ने भी जिन्ना की तारीफ करते हुए कहा था कि स्वतंत्रता संग्राम में उन्होंने महात्मा गांधी, सरदार पटेल और पं. नेहरू की तरह अहम भूमिका निभायी थी।