महंत नरेंद्र गिरी आत्महत्या! आत्महत्या के लिए उकसाने के आरोप में आनंद गिरी सहित तीन पर आरोप तय

महंत नरेंद्र गिरी ने की थी आत्महत्या खुद ही लिखा था सुसाइड नोट वीडियो भी बनाया था सीबीआई के जांच में हुआ खुलासा

नरेंद्र गिरी आत्महत्या मामले में आनंद गिरी सहित तीन पर चलेगा हत्या के लिए उकसाने का केस

प्रखर डेस्क। महंत नरेंद्र गिरी की संदिग्ध मौत के मामले की जांच कर रही सीबीआई ने शनिवार को सीजेएम कोर्ट में चार्जशीट दाखिल कर दी है. सीबीआई ने चार्जशीट में महंत नरेंद्र गिरी की मौत को खुदकुशी माना है.
सीबीआई द्वारा शनिवार को पेश की गई चार्जशीट से यह साफ हुआ है कि महंत नरेंद्र गिरी की हत्या नहीं हुई है. सीबीआई ने आईपीसी की धारा 306 और 120 बी के तहत चार्जशीट दाखिल की है. सीबीआई ने आनंद गिरी, आद्या प्रसाद तिवारी और संदीप तिवारी को मौत के लिए जिम्मेदार माना है. सीबीआई ने महंत नरेंद्र गिरी के सुसाइड नोट की हैंडराइटिंग का सीएफएल से जांच कराने के बाद माना है कि सुसाइड नोट महंत नरेंद्र गिरी ने ही लिखा है. मौत से पहले वीडियो भी उन्होंने ही बनाया था. चार्जशीट में तीनों आरोपियों को सुनियोजित साजिश के तहत आत्महत्या के लिए उकसाने का आरोप लगाया है। सीबीआई ने कहा है कि अन्य अभियुक्तों के खिलाफ विवेचना अभी जारी है. सीबीआई की ओर से दाखिल की गई यह पहली चार्जशीट है. सीबीआई मामले में विवेचना पूरी करने के बाद सप्लिमेंट्री चार्जशीट भी दाखिल कर सकती है. मौत से पहले अपने दो सेवादारों से महंत नरेंद्र गिरी ने बातचीत की थी. उनसे पूछा था कि क्या फोटो और वीडियो में चेहरा बदल कर गलत वीडियो बनाया जा सकता है।