रायबरेली से विधायक आदिति सिंह व आज़मगढ़ के सगड़ी से विधायक वंदना सिंह ने थामा बीजेपी का दामन

प्रखर डेस्क/ एजेंसी। उत्तर प्रदेश में अगले साल 2022 में विधानसभा चुनाव होने हैं, जिसे लेकर सभी राजनीतिक पार्टियां जोड़तोड़ में लगी हैं। नेता अपना कद बढ़ाने व टिकट पाने की चाह में इधर से उधर रास्ता तलाश रहे हैं। इस बीच उत्तर प्रदेश में भाजपा में दो बड़े नेता शामिल हुए हैं। रायबरेली से कांग्रेस की बागी विधायक अदिति सिंह और बसपा की विधायक वंदना सिंह ने भाजपा का दामन थाम लिया है। इन दोनों नेताओं ने भाजपा प्रमुख स्वतंत्र देव सिंह की उपस्थिति में पार्टी की सदस्यता ली। दिग्गज कांग्रेस नेता स्वर्गीय अखिलेश सिंह की बेटी, अदिति सिंह पहली बार 2017 में रायबरेली से कांग्रेस के टिकट पर उत्तर प्रदेश विधानसभा के लिए चुनी गई थीं। वह अपनी पार्टी के सहयोगियों की मुखर आलोचक रही हैं और एक से अधिक मौकों पर यूपी में भाजपा सरकार के लिए समर्थन की आवाज उठा चुकी हैं। वंदना सिंह बहुजन समाज पार्टी (बसपा) के टिकट पर आजमगढ़ जिले के सिगरी से यूपी विधानसभा के लिए चुनी गई पूर्व विधायक हैं। बीजेपी ने बुधवार को लखनऊ में एक समारोह में दोनों का स्वागत किया।