मुख्यमंत्री के सुरक्षा में हुई चूक को लेकर एसपी ने उप निरीक्षक समेत 8 लोगों को किया सस्पेंड

प्रखर जौनपुर। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ को काला झण्डा दिखाने के मामले में एसपी ने कठोर कदम उठाते हुए सुरक्षा ड्यूटी में तैनात दो दारोगा समेत आठ पुलिस कर्मियों को निलंबित कर दिया है। प्रतिकात्मक रूप से काली पन्नी को दिखाने वाले दो आरोपियो को गिरफ्तार किया गया है।
सूबे के मुखिया योगी आदित्यनाथ शुक्रवार को जिले में कई परियोजनाओं का शिलान्यास और स्थलीय निरीक्षण करने के लिए आये थे। मेडिकल कालेज का निरीक्षण करने के बाद योगी आदित्यनाथ का काफिला पचहटिया स्थित एसटीपी परियोजना निरीक्षण करने के लिए निकला तो मेन गेट पर सपा नेता आशीष यादव उर्फ़ मुलायम यादव पुत्र स्व0 राम अकबाल यादव निवासी ग्राम ढेमा थाना बदलापुर द्वारा काला झण्डा दिखाया गया। आशीष यादव को तत्काल पुलिस हिरासत में ले लिया गया। पूछताछ पर ज्ञात हुआ कि आशीष यादव, सर्वेश यादव उर्फ लल्ला पुत्र पंचम यादव निवासी ग्राम शेरवाँ थाना सिकरारा के साथ आया था। दोनों व्यक्ति मीडिया कवरेज के बहाने मेडिकल कालेज को कवर करने हेतु सड़क के दूसरे तरफ खड़े थे। आशीष अपने जेब में काली पन्नी रखा था, काफिला निकलने के दौरान आशीष द्वारा उसी पन्नी को दिखाया गया। पुलिस द्वारा दोनों अभियुक्तों को मय बाइक और मोबाइल गिरफ़्तार कर लिया गया है, अग्रिम विधिक कार्यवाही की जा रही है। मौक़े पर डयूटी में तैनात 2 उपनिरीक्षक और 6 आरक्षी को लापरवाही बरतने के कारण निलम्बित कर दिया गया है। निलम्बित पुलिसकर्मियों का विवरण- 1.उ0नि इंद्रजीत यादव 2.उ0नि0 मनोज पाण्डेय 3.का0 राजू चौहान 4.का0 सूरज सोनकर 5.का0 शेषनाथ चौहान 6.का0 अभिषेक यादव 7.का0 सुनील कुमार यादव 8.का0 जयराम