बैंक कर्मी ने ऋण के लिए पिता- पुत्र को दी धमकी हार्ट अटैक से पिता की मौत, पुत्र गंभीर

0
26


प्रखर एजेंसी। हमीरपुर में इंडियन बैंक के कर्मचारियों की धमकी से पिता-पुत्र को हार्टअटैक पड़ गया। पिता की घर पर ही मौत हो गई। बेटे का इलाज कानपुर में चल रहा है। परिवार के लोगों ने मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ से भी इस मामले में गुहार लगाई है। हालांकि शाखा प्रबंधक ने किसी तरह की धमकी की बात से इनकार किया है। चंदपुरवा बुजुर्ग निवासी राजेश कुमार विश्वकर्मा ने मुख्यमंत्री शिकायत पोर्टल में शिकायत दर्ज कराते हुए आरोप लगाया है कि उसके पिता ने कस्बे की इंडियन बैंक शाखा से सितंबर 2016 में किसान क्रेडिट कार्ड से 5.70 लाख का ऋण लिया था। वर्ष 2018 में बैंक मैनेजर ने इसको जबरिया नवीनीकरण करा दिया। यह ऋण अब 10 लाख से ऊपर हो गया है। 24 अगस्त को बैंक कर्मचारी प्राइवेट वसूली एजेंट को साथ लेकर गांव आ धमके और बकाया जमा न करने पर जमीन नीलाम करा देने की धमकी दी। इससे पिता द्वारका प्रसाद और बड़े भाई को हार्टअटैक पड़ गया। पिता की मौके पर ही मौत हो गई, जबकि भाई की जान कानपुर में भर्ती कराकर बचाई जा सकी। वहीं, शाखा प्रबंधक अनिल कुमार ने किसान पुत्र के आरोपों को निराधार बताते हुए कहा कि उन्होंने किसी तरह की धमकी नहीं दी है। जमीन नीलामी का आरोप बेबुनियाद है। महज बकाया जमा कराने को कहा गया था।