बहुचर्चित श्रद्धा वाकर हत्याकांड! आरोपी आफताब का 20 लड़कियों से था अंतरंग संबंध, सबसे लिए था अलग- अलग सिम कार्ड

सभी 20 लड़कियां बंबल डेटिंग एप से मिली थी

प्रखर एजेंसी। बहुचर्चित श्रद्धा वाकर हत्याकांड के आरोपी आफताब अमीन पूनावाला(28) की 20 से ज्यादा गर्लफ्रेंड थीं। ये सभी बंबल डेटिंग एप से बनी थीं। इनमें से ज्यादातर गर्लफ्रेंड उसके घर आ चुकी हैं। इनमें से ज्यादातर गर्लफ्रेंड से उसके नजदीकी संबंध बन गए थे। बतादे कि यह खुलासा आफताब पूनावाला ने दक्षिण जिले की महरौली पुलिस की पूछताछ में किया है। दक्षिण जिला पुलिस ने डेटिंग एप बंबल को पत्र लिख दिया है और मैसेज भी किया है। पुलिस ने एप से सभी गर्लफ्रेंड की जानकारी मांगी है। दक्षिण जिला पुलिस सूत्रों का कहना है कि इन सभी लड़कियों को जल्दी बुलाकर उनसे पूछताछ की जा सकती है। दक्षिण जिले के एक वरिष्ठ अधिकारी ने बताया कि आफताब की श्रद्धा से बंबल एप के जरिए ही दोस्ती हुई थी। इस समय श्रद्धा कॉलेज में पढ़ाई कर रही थी। उस समय आरोपी कॉल सेंटर में नौकरी करता था। आरोपी आफताब नया सिम लेकर एप पर एकाउंट बनाता और फिर युवतियों से दोस्ती करता था। हर युवती से दोस्ती करने के लिए वह अलग मोबाइल सिम का इस्तेमाल करता था। एक युवती से दोस्ती करने के लिए वह एक ही सिम इस्तेमाल करता था। हर सिम को वह अपने नाम से लेता था। कई सिम उसने दिल्ली से लिए थे। पुलिस अधिकारियों का कहना है कि इस तरह वह 20 से ज्यादा युवतियों से दोस्ती कर चुका है। इनमें से ज्यादातर युवतियां उसके घर चुकी है। श्रद्धा की हत्या करने के बाद आरोपी आफताब ने अपना मोबाइल हैंडसैट ओएलएक्स पर बेच दिया था और सिम को तोड़कर फेंक दिया था। आरोपी ने फिर दिल्ली से उसी नंबर का दूसरा सिम लिया था। दिल्ली में उसने मोबाइल हैंडसैट नया खरीदा था। दूसरी तरफ इसमें पिता विकास मदन वालकर व मुंबई पुलिस की लापरवाही सामने आ रही है। विकास वालकर को 15 सितंबर को पता लग गया था कि श्रद्धा गायब है। बताया जा रहा है कि उन्होंने अगले दिन ही मुंबई में मिसिंग रिपोर्ट दर्ज कराई थी। मुंबई पुलिस ने जांच के नाम पर काफी समय खराब कर दिया। मुंबई पुलिस 9 नवंबर को दिल्ली पुलिस के पास पहुंची थी। दिल्ली पुलिस ने करीब चार दिन में पूरे केस का खुलासा कर दिया था।