दरोगा की पिस्टल छीनकर गोली मारने वाले अपराधी रिंग रोड पर कमिश्नरेट पुलिस से मुठभेड़ में ढेर


तीनों अपराधी सगे भाई दो पुलिस मुठभेड़ में ढेर एक फरार

प्रखर वाराणसी। पुलिस और बदमाशों के बीच हुई मुठभेड़ आज ताड़के मुठभेड़ हो गई, जिसमे दो बदमाश मारे गए, और एक फरार हो गाया। तीनों सगे भाई बताए जा रहे हैं।
मुठभेड़ में ढेर हुए बदमाशों की पहचान बिहार के समस्तीपुर जिले के मोहद्दीनगर थाना के गोलवा निवासी रजनीश सिंह और मनीष सिंह के रूप में हुई। उनका तीसरा भाई लल्लन सिंह फरार होने में कामयाब रहा। तीनों पटना से फरार हुए थे। बता दें कि इन्हीं बदमाशों ने कुछ दिन पूर्व रोहनिया थाना क्षेत्र के अंतर्गत रोहनिया थाने में तैनात एसआई की पिस्टल छीनकर गोली मारकर भागे थे। जिसके बाद पुलिस को इनकी सरगर्मी से तलाश थी। बताया जाता है कि यह तीनो बिहार के कुख्यात अपराधी हैं जो जेल से फरार थे। जनकारी के अनुसार तड़के रिंग रोड पर मुठभेड़ हुई है। वाराणसी कमिश्नरेट के थाना बड़ागांव क्षेत्र में मुठभेड़ रिंग रोड पर हुई।
शातिर बदमाशों के मूवमेंट को इंटरसेप्ट करने हेतु वाराणसी कमिश्नरेट की क्राइम ब्रांच और बड़ागांव पुलिस की टीम ने घेराबंदी की थी। जब अपने को घिरता देखा तो क्राइम ब्रांच और बड़ागांव पुलिस टीम पर बदमाशों ने कई राउंड फायर किया । क्राइम ब्रांच के आरक्षी शिव बाबू को गोली लग गई। पुलिस की जवाबी कार्यवाही में दो बदमाश गंभीर रूप से घायल, तीसरा बदमाश मौके से हुआ फरार । बदमाशों के पास से एक 9 mm Browning पिस्टल और एक 32 बोर की पिस्टल बरामद हुई है। साथ ही एक काले रंग की बाइक, मोबाइल फोन और कुछ कागजात भी बरामद हुए है । बताते चले कि हाल ही में दरोगा की लूटी हुई पिस्टल से बरामद 9 mm Browning पिस्टल के मिलान की कार्यवाही हेतु हेड आर्मोरर को भेजा गया ।