दो वर्ष से तहसील का चक्कर लगा रहा फरियादी जब रो पड़ा

0
137

प्रखर पिंडरा वाराणसी। पिंडरा तहसील सभागार में आयोजित सम्पूर्ण समाधान दिवस पर अधिकतर पुराने फरियादी ही फरियाद करते दिखे। इस दौरान कुल 113 मामले आये। जिसमे 3 मामलों का मौके पर निस्तारण किया गया। एसडीएम अंशिका दीक्षित की अध्यक्षता में आयोजित तहसील दिवस पर देवराई गांव के शिवपूजन ने वर्ष 2020 में आयोजित मत्स्य पालन पट्टा शिविर में उसके नाम से दो तालाब का आवंटन हुआ। जिसका धन भी ट्रेजरी चालान से जमा कर दिया गया लेकिन आज तक रजिस्टर्ड कागज नही मिला। जिससे प्रार्थी लगातार दो वर्षो से तहसील का चक्कर लगा रहा है। यही नही उच्च न्यायालय के आदेश के बावजूद निस्तारण नही किया गया। इस दौरान अनुसूचित जाति का फरियादी के आंखों में आँसू आ गए। जिसपर एसडीएम ने सम्बंधित रजिस्ट्रार कानूनगो को फटकार लगाते हुए तुरन्त कार्रवाई पूर्ण करने का निर्देश दिया।वही पिंडरा के मानापुर निवासी एक दर्जन ग्रामीणों ने आवास के लिए भूमि को आवंटित करने की एसडीएम से मांग की। जिसपर जांचोपरांत कार्रवाई का आश्वासन दिया गया। वही अमिलो (धनंजयपुर) निवासी जयदेवी पुत्री शिवप्रकाश ने आरोप लगाते हुए शिकायत की कि ग्राम प्रधान व सेक्रेटरी ने जबरन टिन शेड व नाद चन्नी ध्वस्त करते हुए नियम विरुद्ध खड़ंजा लगवा दिए। जिसपर बीडीओ को जांच के लिए आदेशित किया। ताड़ी निवासी रामजियावन गुप्ता ने गत दिनों उसके पुत्र के वैवाहिक समारोह के दौरान चोरी हुई बाइक की रपट बड़ागांव पुलिस द्वारा न लिखने की शिकायत की। जिसपर एसीपी अमित पांडेय ने बड़ागांव पुलिस को रपट लिखने के लिए निर्देशित किया। वही भटौली निवासी बुनियादी राम ने लेखपाल व कानूनगो की मिली भगत से उसके नाम से आवंटित जमीन को भूमाफिया किस्म के लोगों को कब्जा कराने का आरोप लगाया। सरायशेखलार्ड निवासी रामनिहोर ने पूर्व ग्राम प्रधान द्वारा जलाशय के आराजी नम्बर को पाटकर रास्ता व शौचालय के निर्माण करने की शिकायत की। वही सुरही निवासी शांति देवी ने उसके भूमधरी मे गांव के दबंग द्वारा जबरन निर्माण करने की शिकायत की। जिसे पुलिस को जांच हेतु आदेशित किया। तहसील दिवस के दौरान बिजली विभाग के अधिकारियों व कर्मचारियों द्वारा गलत बिलिंग कर जबरन वसूली के कई मामले आये। इस दौरान एसडीएम के अलावा एसीपी अमित पांडेय, नायब तहसीलदार साक्षी राय, राधेश्याम, बीईओ देवीप्रसाद दुबे, सीडीपीओ आर एन सिंह, डॉ राहुल सिंह समेत अनेक अधिकारी व कर्मचारी उपस्थित रहे।