यूपी के बिजली उपभोक्ता ट्रस्ट बिलिंग योजना से खुद करें मीटर की रीडिंग और अपने हिसाब से भरे बिल

0
117

प्रखर लखनऊ। ऊर्जा मंत्री एके शर्मा ने बिजली उपभोक्ताओं के लिए ट्रस्ट बिलिंग की सुविधा की शुरूआत की. इससे उपभोक्ताओं को बिजली से जुड़ी हुई कई समस्याओं से जल्द निजात मिलेगी. बतादे कि उत्तर प्रदेश के उपभोक्ताओं को बिजली से जुड़ी हुई समस्याओं से निजात दिलाने के लिए ऊर्जा मंत्री एके शर्मा ने अनोखी पहल की है. उन्होंने उपभोक्ताओ को ट्रस्ट बिलिंग की सुविधा प्रदान की है. ट्रस्ट बिलिंग के जरिए उपभोक्ताओ के बिलों में गलत रीडिंग और गलत बिलिंग सबंधी शिकायतों का जल्द ही समाधान होगा. यूपी के नगर विकास एवं ऊर्जा मंत्री एके शर्मा ने विद्युत उपभोक्ताओं को बिलिंग संबंधी समस्याओं से निजात दिलाने की शुरुआत कर दी है. उपभोक्ता मीटर रीडर द्वारा की जा रही गलत रीडिंग और गलत बिलिंग संबंधी शिकायतें लगातार कर रहे थे. इन सब से बचाने के लिए उपभोक्ताओ के लिए ट्रस्ट बिलिंग की सुविधा की शुरुआत की गई है. इससे उपभोक्ताओं को बिलिंग की एक आसान व्यवस्था मिलेगी, जिससे वह अपने घर बैठे ही स्वयं अपना बिल जनरेट कर सकेंगे. इस व्यवस्था से उन्हें अनावश्यक भागदौड़ से मुक्ति मिलेगी. ऊर्जा मंत्री एके शर्मा ने कहा कि उपभोक्ताओं को बेहतर सुविधाएं उपलब्ध कराने के लिए ऊर्जा विभाग उपभोक्ता हित में कार्य कर रहा है. प्रदेश के 3.28 करोड़ उपभोक्तों को सहज एवं सरल ढंग से सुविधाएं उपलब्ध हों, इसके लिए ऊर्जा विभाग नई तकनीकों का उपयोग कर लोगों के क्रिया कलापों को आसान बना रहा है. ऊर्जा मंत्री ने बताया कि ट्रस्ट बिलिंग के तहत सेल्फ बिल जनरेशन की सुविधा घरेलू और वाणिज्यिक श्रेणी के 9 किलोवाट भार तक के उपभोक्ता को दी जाएगी. ऐसे उपभोक्ता अब घर बैठे अपना स्वयं का बिल जनरेट कर सकेंगे. इसके लिए उपभोक्ताओं को यूपीपीसीएल की वेबसाइट www.uppcl.org अथवा www.upenergy.in पर लॉगिन करना होगा. इस अवसर पर यूपीपीसीएल के अध्यक्ष डॉ. अशीष कुमार गोयल ने कहा कि ऊर्जा मंत्री के निर्देशों के क्रम में ही उपभोक्तों को नई तकनीक से युक्त ट्रस्ट बिलिंग की सुविधा दी गई है. इससे 3.28 करोड़ उपभोक्तों को अपने बिलों के भुगतान में आसानी होगी और समय पर अपना बिल जमा कर सकेंगे. उपभोक्तों के सामने अभी तक आने वाली बिलिंग संबंधी सभी समस्याओं से छुटकारा मिल जाएगा. उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री के विजन ईज ऑफ लिविंग के तहत जनता को उपलब्ध कराई जा रही है. इस सुविधाओं को और सरल व आसान बनाया जा रहा है. अब उपभोक्ताओं को बिल जमा करने के लिए बिजली कार्यालय के चक्कर नहीं लगाने होंगे।