सीएए के विरोध में जेल गए लोगों से 10 जनवरी को वाराणसी में मिलेंगी प्रियंका गांधी

0
86
prakhar purvanchal
prakhar purvanchal

– नागरिकता कानून के विरोध में गिरफ्तार लोगों के घर-घर जाकर मिल रही हैं

– तमाम विपक्षी दल इस कानून के विरोध में

प्रखर वाराणसी। देश में भारतीय संसद द्वारा लाया गया नागरिकता कानून अधिनियम लगातार सुर्खियां बटोर रहा है। अभी तक इसके विरोध में मुस्लिम संगठनों द्वारा किया जा रहा हिंसक प्रदर्शन उनके आंदोलन को कुंद कर रहा था । तो वहीं जवाहरलाल नेहरू विश्वविद्यालय में इस कानून के खिलाफ अलग तरह का माहौल बना हुआ है । इन सब के बीच इस कानून को लेकर राजनीति भी लगातार हो रही है । एक तरफ जहां उत्तर प्रदेश में समाजवादी पार्टी के नेताओं ने इस कानून के विरोध में अपने डाक्यूमेंट्स जलाने की बात कही है। तो वहीं दूसरी तरफ कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी लगातार ऐसे लोगों से उनके घर जाकर मिल रही हैं जो लोग इस कानून के विरोध के दौरान गिरफ्तार किए गए थे। इसी कड़ी में प्रियंका गांधी 10 जनवरी को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के संसदीय क्षेत्र वाराणसी पहुंच रही हैं जहां वह इस कानून के विरोध में गिरफ्तार करने वाले लोगों से मिलेंगी। बताया जाता है कि प्रियंका गांधी 10 जनवरी की सुबह 10 बजे वाराणसी के लाल बहादुर शास्त्री एयरपोर्ट पहुंचेगीं। जहां से रविदास घाट पुहंचेगी यहीं रविदास मंदिर पर उनके मुलाकात का कार्यक्रम रखा गया है। कांग्रेस महासचिव के वाराणसी दौरे को लेकर पार्टी नेता तैयारियों में जुट गए हैं। बता दें कि प्रियंका गांधी के उत्तर प्रदेश में सक्रिय होने के बाद उत्तर प्रदेश में समाजवादी पार्टी और बहुजन समाज पार्टी के बीच बौखलाहट साफ देखी जा रही है। गौरतलब है कि नागरिकता संशोधन कानून के तहत पाकिस्तान, अफगानिस्तान और बांग्लादेश में धार्मिक उत्पीड़न के कारण देश में शरण लेने आए हिंदू, ईसाई, सिख, पारसी, जैन और बौद्ध धर्म के उन लोगों को भारत की नागरिकता दी जाएगी। जिन्होंने 31 दिसंबर 2014 तक भारत में प्रवेश कर लिया था। ऐसे सभी लोग भारत की नागरिकता के लिए आवेदन कर सकेंगे। इस कानून का विरोध कर रहे लोगों कहना है कि इसमें सिर्फ गैर मुस्लिमों को ही नागरिकता देने की बात कही गई है, इसलिए यह कानून धार्मिक भेदभाव वाला है।जो कि संविधान के अनुच्छेद 14 का उल्लंघन है। देश भर में इस कानून का हो रहा जबर्दस्त विरोध हो रहा है। वहीं दूसरी तरफ सरकार इस मामले को लेकर विपक्ष पर राजनीति करने का आरोप लगा रही है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here