ग़ाज़ीपुर- प्राचार्य एवं जिलाधिकारी को छात्रसंघ प्रतिनिधिमंडल ने कुलपित को सम्बोधित पत्रक सौंपा

0
45

प्रखर ब्यूरो गाजीपुर। जौनपुर जिले के वीर बहादुर सिंह पूर्वांचल विश्वविद्यालय ने स्नातक अंतिम वर्ष का परीक्षा परिणाम जारी कर दिया है। लेकिन इस परीक्षा में तमाम छात्र फेल हो गए हैं। कई छात्रों के रिजल्ट पर कुछ विषयों का अंक नहीं चढा है, तो कुछ विषयों पर कांग्रेस पार्टी का नाम छपा है। इसको लेकर गुरुवार को पूर्वांचल विश्वविद्यालय से सम्बद्ध पीजी कालेज के छात्र नेता दीपक उपाध्याय के नेतृत्व में छात्रसंघ प्रतिनिधिमंडल ने कुलपित को सम्बोधित पत्रक प्राचार्य डा. समर बहादुर सिंह एवं जिलाधिकारी मंगला प्रसाद सिंह को सौंपा।
प्रतिनिधिमंडल ने आरोप लगाया कि पास छात्रों को भी फेल कर दिया गया है। छात्र मूल्यांकन में गड़बड़ी की गई है। इस संबंध में पूर्व छात्र संघ उपाध्यक्ष दीपक उपाध्याय ने बताया कि पूर्वांचल विश्वविद्यालय जौनपुर द्वारा बीए, बीएससी मैथ, बायो और कृषि, एमएससी कृषि व स्नातक अंतिम वर्ष का परीक्षा परिणाम घोषित कर दिया गया। लेकिन विवि. द्वारा जारी रिजल्ट में बडे़ पैमाने पर गड़बड़ी है। 40 फीसदी से अधिक छात्र फेल हो गए हैं और कई छात्रों के रिजल्ट पर कुछ विषयों के अंक के बदले कांग्रेस पार्टी का नाम लिखा है तो कुछ पर नंबर नहीं चढ़ा है तो रिजल्ट पर कुछ विषयों में अनुपस्थित दिख रहा, जो रिजल्ट पिछले दिनों वेबसाइट पर अपलोड किया था, उसमें काफी खामियां मिल रही हैं। उन्होंने कहा कि अगर फेल छात्रों की कापी फिर से जांच कर रिजल्ट नहीं जारी किया गया तो वह आंदोलन के लिए बाध्य होंगे। छात्र नेता प्रवीण पांडेय ने कहा कि विवि ने रिजल्ट तैयार करने में गड़बड़ी की है। छात्रों ने मांग कि है कि अतिशीघ्र त्रुटि रिजल्ट सही कर परिणाम घोषित किया जाए। दीपक कुमार ने कहा कि परीक्षा परिणाम देरी से आने के बावजूद परीक्षा फल में गड़बड़ी से बहुत से छात्रों का बीएड/बीटीसी व अन्य कालेजों की काउंसिलिंग छूट गई है और अगले कक्षा में एडमिशन लेने से लेकर पठन-पाठन में काफी विलम्ब हो रहा है, जिससे छात्रों में काफी आक्रोश है। सभी छात्रों ने एक स्वर में कहा कि जल्द से जल्द समस्या का समाधान नहीं हुआ तो छात्र उग्र आंदोलन को बाध्य होंगे।

पत्रक सौंपने वालों में पूर्व छात्र संघ उपाध्यक्ष दीपक उपाध्याय, किशन यादव, दुर्गेश यादव, आनंद यादव, दीपक कुमार, अनिल कुमार, राजदीप रावत, निखिल राज सिंह, जितेंद्र राय, चमचम चौबे, सुनील प्रजाति, विकास खरवार, राजू पांडेय, अभिमन्यु कुशवाहा, आशीष गुप्ता आदि छात्र शामिल थे।