ग़ाज़ीपुर- स्वास्थ्य विभाग मनाएगा ‘विश्व रोगी सुरक्षा दिवस’

0
50

प्रखर ब्यूरो गाजीपुर। प्रत्येक वर्ष 17 सितंबर को में ‘विश्व रोगी सुरक्षा दिवस’ के रूप में मनाया जाता है, जिसको लेकर स्वास्थ्य विभाग में तैयारियां मुकम्मल कर ली गई हैं। कोविड-19 के परिदृश्य में भारत सरकार द्वारा इस वर्ष की थीम ‘हेल्थ वर्कर सेफ्टी फॉर पेशेंट सेफ्टी’ है। इसी के मद्देनजर मिशन निदेशक राष्ट्रीय स्वास्थ्य मिशन उत्तर प्रदेश डॉ. ए.के. पालीवाल के द्वारा प्रदेश के सभी मुख्य चिकित्सा अधिकारी को इस संबंध में पत्र भेजा गया है, जिसके मद्देनजर 17 सितंबर को आयोजित होने वाले कार्यक्रम की रूपरेखा बनाई गई है।
इस संदर्भ में एसीएमओ डॉ. के.के. वर्मा ने बताया कि इस दिवस पर सामूहिक शपथ वर्चुअल माध्यम से आयोजित करना, चयनित पेशेंट सेफ्टी चैंपियन को प्रोत्साहित किया जाना, पेशेंट सेफ्टी से संबंधित पोस्टर प्रदर्शन आयोजित किया जाना एवं श्रेष्ठ पोस्टर को राज्य स्तर परप्रेषित किया जाना, मरीज एवं उनके परिवार के चिकित्सक प्रक्रिया में परामर्श एवं फीडबैक हेतु सम्मिलित किया जाना शामिल है। एसीएमओ डॉ. उमेश कुमार ने बताया कि विश्व स्वास्थ्य संगठन ने 17 सितंबर 2019 को पहला विश्व रोगी सुरक्षा दिवस घोषित किया। वैश्विक स्तर पर 134 मिलियन प्रतिकूल घटनाएं असुरक्षित देखभाल के कारण प्रत्येक वर्ष 2.6 मिलियन मौत होती है। इस दिन का नारा है स्पीक अप फॉर पेशेंट सेफ्टी। यह अभियान मरीजों और उनके परिवारों, स्वास्थ्य कर्मचारियों, नीति निर्माताओं, शिक्षाविदों, शोधकर्ताओं, पेशेवर नेटवर्क और स्वास्थ्य सेवा उद्योग को बोलने के लिए प्रेरित करेगा।